Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

शिमला: कोटखाई गुड़िया कांड का एक साल पूरा, पिता ने कहा- CBI जांच से नहीं है संतुष्ट

शिमला जिले के कोटखाई शहर में पिछले साल एक 16 वर्षीय लड़की का बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई थी, जिसका शव एक जंगली क्षेत्र में मिला था।

शिमला: कोटखाई गुड़िया कांड का एक साल पूरा, पिता ने कहा- CBI जांच से नहीं है संतुष्ट

शिमला जिले के कोटखाई शहर में पिछले साल एक 16 वर्षीय लड़की का बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई थी, जिसका शव एक जंगली क्षेत्र में मिला था। उस घटना के एक साल बाद लड़की के पिता ने आज कहा कि वह इस मामले में सीबीआई जांच से संतुष्ट नहीं है। गौरतलब है कि पिछले साल 4 जुलाई को वह लड़की लापता हो गयी थी और कथित तौर पर उसका बलात्कार किया गया और फिर उसकी हत्या कर दी गई थी।

यह भी पढ़ें- शरद पवार बोले, भारत में पाकिस्तान जैसे हालात, कुछ लोग हमले करना अपना अधिकार समझ रहे हैं

दो दिन बाद छह जुलाई को उसका शव दांडी के जंगली क्षेत्र में पाया गया था। उस लड़की को बाद में गुड़िया के नाम से जाना गया। उस घटना को लेकर क्षेत्र के लोगों में काफी गुस्सा देखने को मिला था। उसके पिता ने आज एक किताब- गुड़िया- अनसुनी चीख रिलीज की, जिसे अश्विनी शर्मा और तनुजा थापा ने लिखा है।

यह भी पढ़ें- असम में बाढ़ की स्थिति बिगड़ी, सात जिलों में 51,000 से अधिक लोग प्रवाभित

किताब में छह जुलाई की घटना के बाद के घटनाक्रमों का उल्लेख किया गया है, जिसमें जांच की प्रक्रियाएं व प्रगति , जन विरोध और आरोपियों की गिरफ्तारी और उनमें से एक की हिरासत में मौत की घटना शामिल हैं। किताब रिलीज करने के मौके पर लड़की के पिता ने कहा कि यह विश्वास करना असंभव है कि इतना जघन्य अपराध अकेले अनिल उर्फ नीलू ने किया है।

बहुत ऐसे सवाल और मुद्दे हैं, जो अभी भी अनसुलझे हैं और सच्चाई का पता लगाने और वास्तविक अपराधियों को सजा दिलवाने के लिए नये सिरे से एक जांच करने की जरुरत है।

Next Story
Top