Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

उत्तराखंड: लम्बी जद्दोजहद के बाद नंदा देवी पर्वत से निकाले गए पर्वतारोहियों के शव

उत्तराखंड में नंदा देवी पर्वत पर पर्वतारोहण को लिए गए पर्वतारोहियों की एवलांच की चपेट में आकर मौत होने के करीब 2 महीने बाद चार शवों को वहां से निकालकर पिथौरागढ़ लाया गया है। बाकी के तीन शव अभी मुनस्यारी में ही रखा गया है।

लम्बी जद्दोजहद के बाद निकाले गए पर्वतारोहियों के शव, जल्द ही दिल्ली भेजे जाएंगे शवDead Bodies Of Climbers Reach Pithoragarh From Nanda Devi Peak

उत्तराखंड में नंदा देवी पर्वत पर पर्वतारोहण को लिए गए पर्वतारोहियों की एवलांच की चपेट में आकर मौत होने के करीब 2 महीने बाद चार शवों को वहां से निकालकर पिथौरागढ़ लाया गया है। बाकी के तीन शव अभी मुनस्यारी में ही रखा गया है।

खराब मौसम के कारण सेना को रेस्क्यू अभियान चलाने में काफी मसक्कत करनी पड़ी। लेकिन उन्होने कामयाबी हासिल करते हुए पर्वतारोहियों के शव को वहां से निकाला। शवों को एमआई-17 हेलीकॉप्टर से लाया गया। हल्दानी जिला अस्पताल में रखने के बाद सभी शव दिल्ली भेजे जाएंगे।

आज से करीब दो महीने पहले 13 मई को मुनस्यारी से नंदादेवी ईस्ट के लिए ब्रिटेन के मार्टिन मोरिन, रिचर्ड प्याने, जोन चार्लिस, रूपर्ट वेवैल, अमेरिका के रोनाल्ड बीमेल, आस्ट्रेलिया की महिला पर्वतारोही रूथ मैकन्स और इंडियन माउंटेनियरिंग फेडरेशन के अधिकारी चेतन पांडेय पर्वतारोहण के दौरान लापता हो गए।

सेना ने हेलीकॉप्टर से सर्च अभियान चलाया तो पर्वत के ऊपर बर्फ के बीच कुछ शव दिखाई दिए। उसके बाद उन्हें नीचे लाने के लिए विशेष टीम का गठन करना पड़ा। जिसके बाद उनके शवों को बाहर निकाला जा सका।

Next Story
Top