Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus Lockdown: कोरोना के चलते पहली बार केदारनाथ बदरीनाथ के कपाट खुलने में हुई देरी, 15 मई को खुलेंगे कपाट

कोरोना के चलते देश में जारी लॉकडाउन (Lockdown) के बीच कपाट खुलने तारीखों में किया गया बदलाव। 15 दिन देरी से खोले जाएंगे बदरीनाथ के कपाट

Coronavirus Lockdown: कोरोना के चलते पहली बार केदारनाथ बदरीनाथ के कपाट खुलने में हुई देरी, 15 मई को खुलेंगे कपाट
X
एक जुलाई से चरणबद्ध तरीके से शुरू होगी चार धाम यात्रा। 

देश में इन दिनों कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन (Lockdown) का असर बदरीनाथ (Badrinath Temple) पर भी पड गया है। इसकी वजह लॉकडाउन को देखते हुए बदरीनाथ के कपाट खोलने में देरी किया जाना है। ऐसा पहली बार होगा जब बदरीनाथ के कपाटों को खोलने के लिए एक नई तारीख की घोषणा की गई हो, इसका फैसला (Uttrakhand Cm) मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत की अध्यक्षता में लिया गया है। जिसके बाद निश्चीत हुआ है कि 30 अप्रैल की जगह बदरीनाथ के कपाट 15 दिन बाद यानि 15 मई सुबह 4:30 बजे को खोले जाएंगे।

बैठक के बाद तारीखों की हुई घोषणा

मुख्यमंत्री में अध्यक्षता में धर्मस्व व पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, राजपरिवार से टिहरी सांसद माला राज्य लक्ष्मी, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, डीजीपी अनिल रतूड़ी, सचिव धर्मस्व दिलीप जावलकर भी बैठक में मौजूद रहे। बैठक में चर्चा की गई कि धाम के रावल के केरल से आने के बाद 14 दिन तक क्वारंटाइन रहने की स्थिति में किस तरह वे पूजा अर्चना में शामिल हो सकेंगी। जिसमें तय हुआ है कि (Badrinath temple opening Date) बदरीनाथ के कपाटों कि तारीखों को आगे बढ़ाया जाए। इसके बाद टिहरी राजपरिवार प्रमुख मनु जयेंद्र शाह ने फोन पर श्री बदरीनाथ धाम के कपाट खोले जाने की तारीख 30 अप्रैल से आगे बढ़ा कर 15 मई किए जाने की घोषणा की।

5 मई से नरेंद्रनगर गाडू घड़ा पंरपरा को होगा निर्वहन

दरअसल , 5 मई को नरेंद्रनगर राजमहल से तेल निकालने की गाडू घड़ा पंरपरा का निर्वहन किया जाएगा। वहीं बदरीनाथ कपाट खोलने की तारीख 15 मई और समय सुबह 4:30 बजे निश्चीत किया गया है। इसके साथ ही बैठक में श्री केदारनाथ धाम (Kedarnath Dham) के कपाट खोले जाने पर भी चर्चा हुई। जिसमें तय हुआ कि धार्मिक परंपराओं के मुताबिक ही सम्बन्धित धर्माचार्यों की ओर से श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुलने का दिन और समय निर्धारित किया जाएगा।

Next Story