Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जल्द ही होगा योगी मंत्रिमंडल में बदलाव, कुछ नेताओं को मिल सकता है मेहनत का इनाम

प्रदेश में जब भाजपा की सरकार बनी तो सीएम योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में मंत्रियों की कुल संख्या 47 थी। इसके बाद डॉ. एसपी सिंह बघेल, सत्यदेव पचौरी और डॉ. रीता बहुगुणा जोशी लोकसभा चुनाव में उतरी और जीतकर संसद पहुंच गई। सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री बनाए गए सुहेलदेव का सरकार से विवाद होने के कारण उन्हें उनके पद से बर्खास्त कर दिया गया।

जल्द ही होगा योगी मंत्रिमंडल में बदलाव, कुछ नेताओं को मिल सकता है मेहनत का इनाम

भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेताओं की नजर अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर है। हालही में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में प्रदेश के अन्य राज्यों की तरह यहां से भी भाजपा को प्रचंड जीत मिली। इस दौरान पार्टी ने कई मंत्रियों को प्रत्याशी बनाया और वह जीतकर सांसद बन गए इसके बाद सरकार के मंत्रिमंडल में स्थान खाली हो गया है। जिसको भरने के लिए भाजपा हाईकमान सूबे के नेताओं पर नजर लगाए हुए है।

उम्मीद लगाई जा रही कि प्रदेश में होने वाले उपचुनाव के पहले ही ये काम पूरा कर लिया जाएगा। एक जो प्रमुख बात है वह यह कि 28 जुलाई को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्र की सरकार में गृहमंत्री अमित शाह उत्तर प्रदेश में आयोजित दूसरे शिलान्यास समारोह में आ रहे हैं। ऐसे में कहा जा रहा कि वह प्रदेश की कोर कमेटी से बात करेंगे और नए नेताओं को मौका देंगे।

प्रदेश में जब भाजपा की सरकार बनी तो सीएम योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में मंत्रियों की कुल संख्या 47 थी। इसके बाद डॉ. एसपी सिंह बघेल, सत्यदेव पचौरी और डॉ. रीता बहुगुणा जोशी लोकसभा चुनाव में उतरी और जीतकर संसद पहुंच गई। सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री बनाए गए सुहेलदेव का सरकार से विवाद होने के कारण उन्हें उनके पद से बर्खास्त कर दिया गया।

पिछले हफ्ते ही स्वंतत्र देव सिंह को भाजपा हाईकमान ने प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दे दी है जिसके बाद उनका भी मंत्रिमंडल छोड़ना तय है। इस तरह 5 पद सीधे तौर पर खाली हो जा रहे हैं। साथ ही कई और ऐसे नेता हैं जो मंत्रालय को बेहतर ढंग से नहीं संभाल पा रहे हैं ऐसे में उनकी छुट्टी तय है। नए और पुराने चेहरों को मिलाकर इसबार कहा जा रहा कि मंत्रिमंडल का विस्तार करते हुए योगी सरकार इसकी संख्या 60 करेगी।

Next Story
Share it
Top