Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

CM योगी आदित्यनाथ ने की बड़ी घोषणा, पीड़ित हिंदू और मुस्लिम महिलाओं को 6000 रुपए देगी सरकार

सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ये भी कहा कि गलत तरह से दूसरी शादी करने वाले हिंदू पुरुषों (Hindu Male) को भी दंडित किया जाएगा। रिश्ते तोड़ना आसान है, लेकिन जोड़ना कठिन होता है,इसलिए हमारी लड़ाई रिश्ते (Relation) जोड़ने की है। सीएम ने कहा कि हिंदू महिलाओं (Hindu Womens) को भी न्याय दिलाएंगे।

CM योगी आदित्यनाथ ने की बड़ी घोषणा, पीड़ित हिंदू और मुस्लिम महिलाओं को 6000 रुपए देगी सरकारCM Yogi Big Announcement: Govt will Give 6000 Rupees To The Victimized Hindu and Muslim Women

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बुधवार को प्रदेश की महिलाओं (Womens) के लिए बड़ी घोषणा की। उन्होंने कहा कि पति से पीड़ित हिंदू और मुस्लिम महिलाओं (Hindu And Muslim Womens) को 6000 रुपए सालाना सहायता देने का कार्य प्रदेश सरकार द्वारा किया जाएगा। जब तक इंसाफ नहीं हो जाता तब तक सरकार यह धनराशि पीड़ित महिलाओं को देगी। यह बात मुख्यमंत्री ने इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित तीन तलाक से प्रभावित महिलाओं से संवाद कार्यक्रम के दौरान कही।

इसके साथ ही कार्यक्रम के दौरान सीएम ने तीन तलाक से पीड़ित राष्ट्रीय महिला खिलाड़ी सुमेला जावेद को नौकरी देने को कहा है। साथ ही उसे अपना केस लड़ने की नि:शुल्क सुविधा देने की भी घोषणा भी की। कार्यक्रम में सीएम ने कहा कि केवल पीएम मोदी ही ट्रिपल तलाक से मुक्ति दिला सकते थे। ऐसा करके उन्होंने नारी शक्ति को सम्मान दिया है। इसके लिए उन्होंने पीएम का आभार जताया।

दूसरी शादी करने वाले हिंदू पुरुष किए जाएंगे दंडित

सीएम ये भी कहा कि गलत तरह से दूसरी शादी करने वाले हिंदू पुरुषों को भी दंडित किया जाएगा। रिश्ते तोड़ना आसान है, लेकिन जोड़ना कठिन होता है,इसलिए हमारी लड़ाई रिश्ते जोड़ने की है। सीएम ने कहा कि हिंदू महिलाओं को भी न्याय दिलाएंगे। उन्होंने बताया कि बीते एक साल में 273 मामले ट्रिपल तलाक के हैं। यूपी सरकार ने सभी इन मामलों में मुकदमा दर्ज कराया है।

नि:शुल्क मुकदमे लड़ने की व्यवस्था करेगी

सीएम ने कहा कि ट्रिपल तलाक से पीड़ित महिलाओं के मुकदमे सरकार नि:शुल्क लड़ने की व्यवस्था करेगी। साथ ही पीड़ित महिलाओं के पुनर्वास के लिए 6000 रुपए सालाना अनुदान देने की योजना भी बनेगी। वहीं शिक्षित महिलाओं के लिए रोजगार की व्यवस्था की जाएगी। बीमा योजनाओं का लाभ ट्रिपल तलाक पीड़ित महिलाओं को दिया जाएगा।

लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों पर होगी कार्रवाई

तीन तलाक के मामलों में सीएम योगी ने कहा, यूपी में पिछले एक साल में 273 मामले आए थे। हमने सभी में एफआईआर करवाई। मैंने यहां प्रमुख सचिव, गृह को इसीलिए बुलाया है कि वह इन सभी मामलों की खुद समीक्षा करें और जिन पुलिसकर्मियों ने लापरवाही बरती है, उन पर भी कार्रवाई हो।

सीएम योगी ने आगे कहा गाड़ी का एक पहिया पुरुष है तो दूसरी महिला इसलिए पुरुष के विकास के साथ-साथ महिलाओं का विकास भी बेहद जरूरी है। सबको सम्मान के साथ जीने का अधिकार है,यह निर्माण की लड़ाई है, इसे आगे बढ़ाने के लिए ही हम सभी यहां उपस्थित हुए हैं।

Next Story
Share it
Top