Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मोदी ने वाराणसी को बना दिया ''वायरलेस शहर'', अब नहीं हैं यहां खम्भे और तारें

दुनिया के प्रचीनतम शहरों में से एक वाराणसी अब वायरलेस शहर बन गया है। यहां के लोगों को सिर पर लटकते तारों से अब छुटकारा मिल गया है।

मोदी ने वाराणसी को बना दिया वायरलेस शहर, अब नहीं हैं यहां खम्भे और तारें
X

दुनिया के प्रचीनतम शहरों में से एक वाराणसी अब वायरलेस शहर बन गया है। यहां के लोगों को सिर पर लटकते तारों से निजात मिल गई है और शहर को ओवरहेड बिजली के तारों से छुटकारा मिल गया है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, शहर के 16 स्क्वॉयर किलोमीटर इलाके में बिछ रहे अंडरग्राउंड बिजली के तारों का काम विभाग ने पूरा कर लिया है।

पूर्व केंद्रीय बिजली मंत्री पीयूष गोयल ने साल 2015 जून में 432 करोड़ से अंडरग्राउंड केबल बिछाए जाने की घोषणा की थी। इसके बाद सितंबर 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में 45,000 करोड़ रुपये की इंटीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम (आईपीडीएस) योजना का उद्घाटन किया था। जिसके बाद यहां दिसंबर 2015 में काम शुरू हो गया था।

यह भी पढ़ें- चीन की नई चाल, भारतीय सीमा में घुसे चीनी हेलीकॉप्टर, 1 महीने में चौथी बार किया सीमा उल्लंघन

प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट की निगरानी खुद मंत्री पीयूष गोयल कर रहे थे। साथ ही यह दावा किया गया था कि काम एक साल में पूरा कर लिया जाएगा।

अंडरग्राउंड केबलिंग का काम नहीं था आसान

इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे अधिकारियों के मुताबिक, जो डीपीआर बना था, उसे प्रैक्टिकल तौर पर उतराने में बहुत चुनौतियों का सामना करना पड़ा।

वहीं आईपीडीएस के प्रोजेक्ट मैनेजर सुधाकर गुप्ता ने कहा कि यहां आईपीडीएस का काम पूरा करने में हमें ये एहसास हुआ कि अंडरग्राउंड केबल बिछाने के लिए वाराणसी सबसे जटिल शहर है। इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में कंपनी को 2 साल लगे।

अधिकारियों के मुताबिक, सबसे पहले पुराने उपकेंद्रों को हटाकर उन्हें आधुनिक किया गया और यहां दो नए उपकेंद्र चौक और कज्जाखपुरा स्थापित किए गए।

उन्होंने बताया कि अंडरग्राउंड BSNL की लाइंस, पानी पाइप लाइंस और सीवेज पाइप लाइंस ने भी परेशानी पैदा कीं क्योंकि इन पाइप लाइंस का कोई मैप किसी के पास मौजूद नहीं था। वहीं काम के दौरान कुछ पाइप लाइन्स डैमेज भी हो गई, जिसके बाद संबंधित एजेंसी को भुगतान होने तक काम रोक दिया गया लेकिन इन सब परेशानियों के बाद अब काम पूरा हो गया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story