Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उत्तर प्रदेश सरकार मदरसों को मुख्य धारा की शिक्षा प्रणाली में लाना चाहती हैः मंत्री

उत्तर प्रदेश के मंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि राज्य सरकार मदरसों को मुख्य धारा की शिक्षा प्रणाली के तहत लाना चाहती है।

उत्तर प्रदेश सरकार मदरसों को मुख्य धारा की शिक्षा प्रणाली में लाना चाहती हैः मंत्री
X

उत्तर प्रदेश के मंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि राज्य सरकार मदरसों को मुख्य धारा की शिक्षा प्रणाली के तहत लाना चाहती है। उन्होंने देशभर में मदरसों के विद्यार्थियों के लिए ‘नया ड्रेस कोड' लाने की भी पैरवी की और कहा कि वह केंद्र के सम्मुख यह मुद्दा उठायेगा। लेकिन रजा ने यह नहीं बताया कि इन शिक्षण संस्थानों में नया ड्रेस क्या होना चाहिए जहां विद्यार्थी फिलहाल सफेद कुर्ता-पायजामा पहनते हैं।

उन्होंने इस बात पर अफसोस प्रकट किया कि अब तक उनके समुदाय के किसी भी नेता ने मदरसा प्रणाली के मानकीकरण के बारे में नहीं सोचा। उन्होंने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार मदरसों को मुख्य धारा की शिक्षा प्रणाली में लाना चाहती है। लेकिन उत्तरप्रदेश ही क्यों, मैं सोचता हूं कि देशभर में इन धार्मिक संस्थानों को मुख्यधारा में लाया जाना चाहिए।'
रजा ने कहा, ‘‘मैं इस संबंध में (प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी से मिलूंगा और इस बात पर उनकी सलाह लूंगा कि हम देश में मदरसों में औपचारिक शिक्षा प्रणाली कैसे ला सकते हैं। अफसोस है कि अब तक किसी भी मुस्लिम नेता ने मदरसा शिक्षा प्रणाली के मानकीकरण के बारे में नहीं सोचा।'
पिछले महीने रजा ने कहा था कि उत्तर प्रदेश सरकार मदरसों के विद्यार्थियों के लिए शीघ्र ही ड्रेस कोड का प्रस्ताव कर सकती है। लेकिन अल्पसंख्यक, मुस्लिम वक्फ और हज काबीना मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा था कि सरकार ने ऐसी कोई नीति नहीं बनायी है। रजा मुम्बई भाजपा नेता अमरजीत मिश्रा के एनजीओ द्वारा आयोजित ‘कजरी' में हिस्सा लेने मुम्बई आये हैं।
उन्होंने कहा, ‘‘हमने मदरसों को आधुनिक बनाने की योजना बनायी है और उनके लिए एनसीईआरटी पाठ्यक्रम शुरु किया है। हम चाहते हैं कि उनके एक हाथ में कंप्यूटर और दूसरे हाथ में कुरान हो जिसका सपना प्रधानमंत्री ने देखा। ' भाजपा शासन में शिक्षण संस्थानों के भगवाकरण होने के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘सूर्य भी भगवा रंग के साथ उगता है और उसी रंग के साथ अस्त हो जाता है। यह ऊर्जाशील रंग किसी खास धर्म तक सीमित नहीं रखा जाना चाहिए।'

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story