Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''पेट का इलाज'' करने के नाम पर तांत्रिक ने महिला से किया बलात्कार, कोर्ट ने सुनाई 25 साल की सजा

मथुरा में फास्ट ट्रैक कोर्ट ने एक तात्रिक को पच्चीस साल की सजा सुनाई है। तांत्रिक ने पेट के इलाज के बहाने महिला महिला से बलात्कार किया। यह घटना वृंदावन के एक आश्रम में हुई।

पेट का इलाज करने के नाम पर तांत्रिक ने महिला से किया बलात्कार, कोर्ट ने सुनाई 25 साल की सजा
X

मथुरा में फास्ट ट्रैक कोर्ट ने एक तात्रिक को पच्चीस साल की सजा सुनाई है। तांत्रिक ने पेट के इलाज के बहाने महिला महिला से बलात्कार किया। यह घटना वृंदावन के एक आश्रम में हुई।

अतिरिक्त जिला वकील प्रवीण सिंह ने बताया कि पिछले साल जुलाई माह में हाथरस से एक महिला ने पेट के दर्द के इलाज के लिए बाबा द्वारकादास से संपर्क किया था। इसके बाद वह अपने पति और चार वर्षीय बेटी के साथ आश्रम पहुंची थीं। द्वारकादास ने उन्हें एक दूसरे कमरे में रुकने के लिए कहा। द्वारकादास ने उनसे कहा कि बुरी ताकतों का इलाज दस बजे से शुरु होगा।
ये भी पढ़ें- कपिल मिश्रा का CM केजरीवाल पर आरोप, कहा- 3 सालों में 5400 करोड़ के राशन घोटाले को दिया अंजाम
द्वारकादास के कहने पर महिला ने अपने पति को एक जलते हुए मिट्टी के दीपक को ले जाने के लिए कहा और दीपक बुझ जाने के बाद ही वापस लौटने के लिए कहा। इस दौरान द्वारकादास ने पीड़िता के साथ छेड़छाड़ की। तांत्रिक ने बुरी ताकतों को खत्म करने का हवाला देते हुए महिला के विरोध के बावजूद उससे बलात्कार किया।
यहीं नहीं जब उसका पति सो रहा था तब भी फिर उससे बलात्कार किया और उन्हें कहा कि यह निबू व्यायाम का एक हिस्सा है। यहीं नहीं उन्हें मृत्यु से बचने के लिए चुप रहने को कहा। हालांकि जब यह दंपत्ति हाथरस के लिए निकले तो महिला ने अपने पति को पूरी घटना बताई।
सिंह ने बताया कि फास्ट ट्रैक कोर्ट के एडिशनल डिस्ट्रिक्ट जज विवेकानंदर शरण त्रिपाठी ने 25000 रुपये का जुर्माना लगाया है और इस भुगतान के बाद भी अभियुक्त को 27 महीने की कारावास की सजा भुगतनी होगी।
ये भी पढ़ें- बिहार: तेजस्वी यादव का सीएम नीतीश पर फिर हमला, ट्विटर पर शेयर किया कार्टून
सिंह ने कहा, हालांकि महिला ने मुकदमे के दौरान एक बार अपना बयान बदला था कि किसी और द्वारा बलात्कार किया गया। कोर्ट ने पुलिस द्वारा प्रस्तुत सबूत, डॉक्टर के बयान और महिला के पहले बयान के आधार पर आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार से संबंधित) के तहत बीस साल और धारा 506 (धमकी) के तहत चार साल की सजा सुनाई है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story