Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विवाद के बाद योगी सरकार के कैलेण्डर में ताज को मिली विशेष जगह

कैलेण्डर में ‘सबका साथ सबका विकास-उत्तर प्रदेश सरकार का सतत प्रयास’ लिखा हैं।

विवाद के बाद योगी सरकार के कैलेण्डर में ताज को मिली विशेष जगह
X

यूनेस्को की विश्व विरासत स्थल सूची में शामिल 17वीं शताब्दी में निर्मित आगरा के ताजमहल को उत्तर प्रदेश सरकार ने 2018 के कैलेण्डर में प्रमुखता से जगह दी है।

राज्य सूचना विभाग की ओर से जारी कैलेण्डर में जुलाई महीने वाले पृष्ठ पर ताजमहल का चित्र है। इसके अलावा इसमें गोरखपुर के गोरक्षा पीठ को जगह दी गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरक्षपीठाधीश्वर हैं। कैलेण्डर में भाजपा का नारा ‘सबका साथ सबका विकास-उत्तर प्रदेश सरकार का सतत प्रयास’ अंकित हैं।

इसे भी पढ़ें- संगीत सोम के बाद कटियार के विवादित बोल- 'ताजमहल हिंदू मंदिर है, देवताओं के भी हैं चिह्न'

इसमें सभी पृष्ठों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी के चित्र प्रमुखता से हैं। सभी पृष्ठों पर राज्य के विरासत स्थलों, पर्यटन स्थलों एवं ऐतिहासिक इमारतों के चित्र हैं।

इस कैलेण्डर में प्रयागराज त्रिवेणी संगम (इलाहाबाद), राम की पौढी (अयोध्या), बरसाने की होली (मथुरा), गुरूद्वारा नानकमत्ता साहिब (पीलीभीत), देवगढ जैन मंदिर (ललितपुर), सारनाथ स्तूप (वाराणसी), रानी झांसी का किला (झांसी), श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर (मथुरा), विंध्याचल त्रिकोण दर्शन (मिर्जापुर) और काशी विश्वनाथ मंदिर (वाराणसी) को भी दर्शाया गया है।

आपको बता दें कि ताज को लेकर भाजपा विधायक संगीत सोम ने 17वीं शताब्दी की इस इमारत को भारतीय विरासत में स्थान दिए जाने पर प्रश्न खड़ा करते हुए कहा था कि इतिहास दोबारा लिखा जाएगा और इसमें से मुगल बादशाहों के नाम को हटा दिया जाएगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story