Top

एयरपोर्ट पर अखिलेश यादव को रोकने पर बोलीं मायावती, बीजेपी सरकार की तानाशाही और लोकतंत्र की हत्या की प्रतीक

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Feb 12 2019 5:05PM IST
एयरपोर्ट पर अखिलेश यादव को रोकने पर बोलीं मायावती, बीजेपी सरकार की तानाशाही और लोकतंत्र की हत्या की प्रतीक

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को मंगलवार को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने को लेकर बसपा की अध्यक्ष मायावती ने भाजपा पर निशाना साधा है। मायावती ने यूपी सरकार के इस कदम को लोकतंत्र की हत्या का प्रतीक बताया।

मायावती ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से लिखा, 'समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को आज इलाहाबाद नहीं जाने देने कि लिये उन्हें लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक लेने की घटना अति-निन्दनीय व बीजेपी सरकार की तानाशाही व लोकतंत्र की हत्या की प्रतीक।'
 
उन्होने दूसरे ट्वीट में लिखा कि क्या बीजेपी की केन्द्र व राज्य सरकार बीएसपी-सपा गठबंधन से इतनी ज्यादा भयभीत व बौखला गई है कि उन्हें अपनी राजनीतिक गतिविधि व पार्टी प्रोग्राम आदि करने पर भी रोक लगाने पर वह तुल गई है। अति दुर्भाग्यपूण। ऐसी आलोकतंत्रिक कार्रवाईयों का डट कर मुकाबला किया जायेगा।
 
वहीं टीएमसी की प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की टिप्पणी भी सामने आयी है। ममता ने कहा, जिग्नेश को भी गुजरात के एक कार्यक्रम में जाने से रोका गया था। उन्हें भाजपा के गुंडों से खतरा था और वे हमें उपदेश देते हैं। वे घृणा की राजनीति में लिप्त हैं। हमारे राष्ट्र में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था। यह दुर्भाग्यपूर्ण है। 

ADS

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
symbol of the killing of dictatorial and democracy of the bjp government say mayawati on akhilesh stopped at airport

-Tags:#Akhilesh Yadav#Samajwadi Party#BJP#Mayawati#Lucknow Airport#Bahujan Samaj Party

ADS

मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo