Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

यूपी पुलिस ने युवक के सीने पर पैर रख कर पीटा, शिवपाल ने वीडियो पोस्ट कर की कार्रवाई की मांग

यूपी में एक सिपाही ने एक युवक के सीने (chest) पर पैर रखकर उसे जमकर पीटा। शिवपाल ने वीडियो ट्विटर पर पोस्ट कार्रवाई की मांग की है।

जोधपुर में हमलावरों का रौब, वाहन को आग में फूंका, बचाव में आए लोगों को जमकर पीटा
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर प्रदेश में पुलिस की बर्बरता करने का एक मामला सामने आया है। एक सिपाही ने एक युवक के सीने पर पैर रखकर जमकर पिटाई कर दी। यह घटना इटावा के बलरई थाना क्षेत्र के बीबामऊ गांव की है। घटना के दौरान किसी युवक ने इसका वीडियो बना लिया। इसके बाद सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार पीड़ित युवक दिमागी तौर पर कमजोर है। उसने प्रधान को गुंडा कह दिया था। इससे नाराज प्रधान ने पुलिस से शिकायत की थी। इसके बाद सिपाही गांव पहुंचकर पीड़ित सुनील को खींच कर जमीन पर पटक दिया।

फिर उसके सीने पर पैर रखकर जमकर पिटाई करना शुरू कर दी। साथ ही मौजूद एक अन्य सिपाही ने भी जमकर पिटाई की। हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद आरोपी सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया है।

वहीं प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल यादव ने अपने ट्वीटर हैंडल पर वीडियो पोस्ट कर लिखा कि इटावा के बीबामऊ में एक बार फिर पुलिस का अमानवीय और बर्बर चेहरा सामने आया है। पुलिस जवान द्वारा मानसिक रूप से विक्षिप्त निर्दोष युवक को बेरहमी से पीटा गया है।

दोषी पुलिसकर्मी के खिलाफ मात्र निलंबन की कार्रवाई पर्याप्त नहीं है। FIR दर्ज कर कड़ी कार्रवाई हो। पुलिस ने बताया कि जब सिपाही गांव पहुंचे तो सुनील ने चाकू निकाल लिया। आरोपी को काबू करने के लिए पुलिस को हल्का बल का प्रयोग करना पड़ा।

वहीं पीड़ित परिवार का कहना है कि सुनील के हाथ पर जेल की मुहर लगी है। उसे जमानत नहीं मिली थी। ऐसे में वह जेल से बाहर कैसे आया? किसने जमानत कराई? आर्म्स एक्ट में कार्रवाई करने के बाद उसे छोड़ा क्यों गया?

इस मामले के तहत एसपी सिटी रामयश सिंह ने कहा कि पुलिसकर्मियों को साफ कहा गया है कि वे ऐसा कोई अमानवीय काम न करें जिससे पुलिस वर्दी पर दाग लगें। हालांकि इस मामले की जांच कराई जा रही है। जांच के बाद जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story