Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आजम खान को हाई कोर्ट ने दिया झटका, फर्जी डिग्री मामले में हस्तक्षेप से इंकार

उत्तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बड़ा झटका दिया। आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम के खिलाफ फर्जी मार्कशीट बनाने के मामले में हाईकोर्ट ने हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया है।

रामपुर सपा सांसद आजम खां को इलाहाबाद हाईकोर्ट से मिला बड़ा झटका, बेटे की फर्जी मार्कशीट ने बढ़ाई मुसीबतरामपुर सपा सांसद आजम खां को इलाहाबाद हाईकोर्ट से मिला बड़ा झटका

उत्तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक बार फिर बड़ा झटका दिया है। जहां आजम खां के बेटे अब्दुल्लाह आजम की फर्जी मार्कशीट बनवाने के खिलाफ मामले दर्ज में हाईकोर्ट ने हस्तक्षेप करने से मना कर दिया है।

फर्जी मार्कशीट बनवाने के मामले में आजम खां, पत्नी तंजीन फातमा और बेटे अब्दुल्ला आजम के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। तीनों ने धारा 482 के तहत याचिका पत्र दाखिल कर खुद के उपर लगे केस को रद्द करने की मांग की थी। हालांकि आजम खां के उपर लगे यह पहला केस नहीं है।

इससे पहले भी आजम के बेटे अब्दुल्ला आजम के दो जन्म पत्र होने के चलते हाईकोर्ट ने पहले ही सांसद आजम खां, तजीन फात्मा और अब्दुल्ला आजम के खिलाफ धारा 82 के तहत नोटिस जारी कर चुकी है। कोर्ट में सुनवाई के दौरान गैरमौजूदगी होने की वजह से सांसद आजम खां के खिलाफ कई मामलों में कुर्की का नोटिस जारी किया जा चुका है।

बता दें कि अब्दुल्ला आजम के दो जन्म प्रमाण पत्र मिलने पर बीजेपी आकाश सक्सेना रामपुर के गंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। जिसमें कहा गया था कि विधायक अब्दुल्ला आजम की दसवीं क्लास की मार्कशीट में जन्मतिथि 1 जनवरी 1993 है, जबकि पासपोर्ट कार्यालय की रिपोर्ट में 30 सितंबर 1990 पाया गया। आरोप है कि विधायक अब्दुल्ला आजम अपने तथ्यों को छुपाकर पासपोर्ट बनाया था, जिसके खिलाफ 30 जुलाई 2019 आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 471 के तहत केस दर्ज किया गया। जबकि पासपोर्ट अधिनियम, 1967 की धारा 12 (1 ए) के तहत को केस दर्ज किया गया था।


Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story
Top