Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आठवले ने मायावती से की NDA में शामिल होने की सिफारिश, जवाब में अखिलेश ने आठवले को बताया ''एंटरटेनर''

केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास आठवले बसपा मुखिया मायावती को NDA में शामिल होने का न्यौता दिया है। जिसके जवाब में समाजवादी पार्देटी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रामदास आठवले के बयान के बारे में पूछे जाने पर अखिलेश ने कहा ‘‘आठवले जी बहुत अच्छे मंत्री हैं। जब मैं सांसद था, तब सदन में उनसे ज्यादा मनोरंजन कोई और नहीं करता था।'''' उन्होंने कहा कि अभी तो सिर्फ दो चुनाव के लिये सपा और बसपा का गठबंधन हुआ था। इतने से ही भाजपा को परेशानी हो गयी।

आठवले ने मायावती से की NDA में शामिल होने की सिफारिश, जवाब में अखिलेश ने आठवले को बताया एंटरटेनर
X

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज राज्य की भाजपा सरकार पर अपने राजनीतिक विरोधियों को परेशान करने का आरोप लगाया है। अखिलेश ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार अपने विरोधियों को परेशान करना चाहती है।

इन दिनों सपा के साथ नजदीकी बढ़ा चुकी बसपा मुखिया मायावती को भाजपानीत राजग में शामिल होने का न्यौता देने वाले केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास आठवले के बयान के बारे में पूछे जाने पर अखिलेश ने कहा ‘‘आठवले जी बहुत अच्छे मंत्री हैं। जब मैं सांसद था, तब सदन में उनसे ज्यादा मनोरंजन कोई और नहीं करता था।'

इसे भी पढ़े- INX Media Case: 13 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत रहेगा पीटर मुखर्जी, CBI के साथ सहयोग न करने का भी आरोप

अखिलेश ने बताया कि पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खां को जल निगम की भर्तियों के मामले में जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। यह सरकार नौकरियां नहीं दे रही है, उल्टे जो नौकरियां दी गयीं, उन पर भी वह सवाल उठा रही है।

उन्होंने कहा कि चाहे पिछली सरकार द्वारा बनवाया गया आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे हो या फिर गोमती रिवरफ्रंट, सरकार सिर्फ बदनाम करने की कोशिश कर रही है। विभिन्न जांच एजेंसियों के जरिये विपक्ष के लोगों को अपमानित किया जा रहा है, मगर यह भी ध्यान रहे कि ‘‘जो बोओगे वही आपको काटना भी पड़ेगा।'

सपा प्रमुख ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कल गाजियाबाद में पूर्ववर्ती सपा सरकार द्वारा बनवाई गई उस एलिवेटेड सड़क का उद्घाटन किया, जिसका उद्घाटन पहले ही हो चुका था। साथ ही अपने भाषण में उन्होंने हम पर परिवारवाद का आरोप भी लगा दिया। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि उस सड़क में ‘यादव लेन‘ कौन सी है।

उन्होंने कहा ‘‘हम स्वीकार करते हैं कि हम परिवारवाद के कारण यहां खड़े हैं लेकिन जनता के सामने हमने परीक्षाएं भी दी हैं। उन्होंने कहा कि आज योगी जहां हैं, अगर परिवारवाद ना होता तो क्या आप यहां होते?'

इसे भी पढ़े- IPL 2018 : डेविड वॉर्नर की जगह इस विस्फोटक बल्लेबाज को सनराइजर्स हैदराबाद ने टीम में किया शामिल

उन्होंने कहा कि अभी तो सिर्फ दो चुनाव के लिये सपा और बसपा का गठबंधन हुआ था। इतने से ही भाजपा को परेशानी हो गयी। भाजपा ने पूरे देश में विभिन्न पार्टियों के साथ 45 गठबंधन किए हैं।

जब हम 45 तक पहुंचेंगे तो भाजपा का क्या हाल होगा। विधान परिषद के आगामी चुनाव में सपा और बसपा के बीच तालमेल की सम्भावनाओं सम्बन्धी सवाल पर अखिलेश ने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया।

अखिलेश ने भाजपा के शासनकाल में दलितों पर अन्याय बढ़ने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि योगी सरकार को प्रदेश की तरक्की के लिये काम करना चाहिए। लेकिन बीटीसी तथा बीपीएड डिग्रीधारियों और शिक्षामित्रों पर लाठीचार्ज किया गया। जिन लोगों की जान गयी उनके परिवारों की कोई मदद नहीं की गयी। रिक्त पदों पर भर्ती के लिये सरकार रास्ता नहीं निकाल पा रही है।

इनपुट- भाषा

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story