Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राज बब्बर ने योगी सरकार पर कसा तंज, कानून-व्यवस्था पर उठाए सवाल

उत्तरप्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राज बब्बर ने प्रदेश की योगी सरकार पर कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर बुरी तरह से विफल रहने का आरोप लगाया है।

राज बब्बर ने योगी सरकार पर कसा तंज, कानून-व्यवस्था पर उठाए सवाल
X

उत्तर प्रदेश कांग्रेस नेता राज बब्बर ने प्रदेश की योगी सरकार पर कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर बुरी तरह से विफल रहने का आरोप लगाया है। राज बब्बर ने मुख्यमंत्री पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि मुख्यमंत्री पुलिस एनकाउंटर से सरकार चलाना चाहती हैं लेकिन एनकाउंटर से सरकारें नहीं चलतीं।'

कांग्रेस नेता ने दावा किया कि योगी सरकार पुलिस राज में अपना ‘‘इकबाल' खो चुकी है। भाजपा ने ज़मीनी स्तर पर अपना प्रभाव खो दिया है। प्रधानमंत्री ने जिस तरह से वादे किये थे, लोगों को लगता है कि उनके साथ धोखा हुआ है।

योगी सरकार के कार्यकाल पर क्या बोले राज बब्बर

  • योगी सरकार के शासनकाल में सांप्रदायिक घटनाओं और पुलिस एनकांउटर के मामले बहुत बढ़े हैं।
  • एनकाउंटर के नाम पर पुलिस आठ-दस साल के बच्चों को गोली मार रही है। अपराधी खुले घूम रहे है और बेगुनाह मारे जा रहे हैं।
  • प्रदेश में बलात्कार, हत्याओं, दलित उत्पीड़न में भारी इजाफा देखने तो मिला है।
  • योगी सरकार बयानबाजी में बहुत आगे है। उन्हें यह समझना चाहिए।

साथ ही राज बब्बर ने कहा कि 2014 के बाद लोकसभा के जितने भी उप चुनाव हुए, भाजपा सबमें हारी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस संगठन का सबसे मजबूत ढांचा है। एआईसीसी और पीसीसी तथा इसमें उन्हें अपनी बात कहने का मौका दिया गया है।

हमारी पार्टी में अब जितनें भी वरिष्ठ नेता है उनकी भूमिका युवा ऊर्जा को कांग्रेस की मजबूती के लिए सार्थकता की तरफ ले जाने की है। पार्टी में वरिष्ठ नागरिकों की भूमिका अब और बढ़ गई है। कांग्रेस में एक तरफ अमुभवी लोग है और दूसरी तरफ युवा।

2019 चुनावों के लिए कसी कमर

राज बब्बर ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस में बहुत सारे नौजवानों को हिस्सा मिला, जो उनके लिए बहुत खुशी की बात है। साथ ही कहा कि हो सकता है कि इससे कुछ बुजुर्ग और अनुभवी लोगों में नाराजगी हो।

पर उन्हें यह देखना चाहिए कि यह किसी सीनियर का अपमान नहीं है। उनका अपना एक खास स्थान है। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का जो खाका बनेगा, वह अनुभवी और नौजवानों को साथ लेकर चलेगा। मुझे उम्मीद है कि संगठन के लिए भी काम होगा और 2019 के आम चुनाव के लिए भी काम होगा।

सपा-बसपा गठबंधन पर क्या बोले बब्बर

सपा-बसपा के बीच यह गठबंधन न केवल यूपी के लिए ही नही बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर किया गया है। इसमें हमारी भूमिका क्या होगी इसका फैसला हाईकमान ही लेंगे। उत्तर प्रदेश के फूलपुर एवं गोरखपुर लोकसभा सीटों के लिए हाल में हुए उपचुनाव में कांग्रेस यदि अपने उम्मीदवार नहीं खड़ी करती तो सपा-बसपा गठबंधन से बनी विपक्षी एकता को और मजबूती मिलती।

साथ ही य़ह भी कहा कि सपा-बसपा के साथ कांग्रेस के नेतृत्व की कोई बातचीत नही हुई है। बसपा ने तो यहां तक कह दिया था कि हम उपचुनाव लड़ते ही नहीं हैं। यह भी बात थी कि एक सीट आप लड़िए और एक हम लड़े तो उन्होंने कहा कि वे विचार करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि देखिए, यह बात जा चुकी है।

हम सब मिलकर जो भूमिका निभाते, वह इन दोनों ने निभा दी है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि हमने दो उम्मीदवार खड़े किये थे, यदि उन्हें वापस लिया जाता तो कार्यकर्ताओं का मनोबल बिल्कुल ही खत्म हो गया होता। जरूरी नहीं कि चुनाव अच्छा या बुरा, कैसा लड़ेंगे किंतु कार्यकर्ता यह सोचता है कि उसके साथ धोखा हुआ है।

आम चुनाव में सपा-कांग्रेस गठबंधन पर बब्बर के बोल

अगले साल आम चुनाव में यूपी में कांग्रेस के सपा से हाथ मिलाने के बारे में बब्बर का कहना था कि यह निर्णय दोनों पार्टी का राष्ट्रीय नेतृत्व ही करेगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story