Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

AMU कॉन्वोकेशन में बोले प्रेसिडेंट, संस्थानों को समुदाय से जोड़कर न देखें

प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी देश के विकास में अपनी खास भूमिका निभाती रही है।

AMU कॉन्वोकेशन में बोले प्रेसिडेंट, संस्थानों को समुदाय से जोड़कर न देखें
X

प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद बुधवार को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के दीक्षांत समारोह में हामिल हुए।

दीक्षांत समारोह में शामिल होने पर खुशी जताते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि एएमयू आधुनिक भारत के साथ-साथ दक्षिण-एशिया और दुनिया के अन्य क्षेत्रों में अपने छात्रों के योगदान के लिए प्रसिद्द हैं।

साल 2020 में अपने सौ साल पूरे करने जा रही है। इस पर प्रेसिडेंट ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी देश के विकास में अपनी खास भूमिका निभाती रही है।

इसे भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश के विकास से ही भारत का पूर्ण विकास संभव- रामनाथ कोविंद

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि ऐसे महत्वपूर्ण संस्थानों को किसी समुदाय से जोड़कर देखने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने बताया कि एएमयू को आर्थिक सहायता देने वालों में बनारस के महाराजा भी शामिल थे।

छात्रों को संबोधित करते हुए प्रेसिडेंट ने कहा एएमयू के विद्यार्थियों ने भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में अपनी पहचान बनाई है।

यहां के छात्र एशिया और अफ्रीका के विभिन्न देशों की सरकारों में प्रमुख पदों पर रहे हैं। इथियोपिया के दौरे पर वहां के प्रधानमंत्री की पत्नी ने बताया कि वे भी AMU की छात्रा रही हैं।

इसे भी पढ़ें- AMU के छात्रसंघ सचिव ने किया राष्ट्रपति का विरोध, कहा- कैंपस में न आएं 'संघी' मानसिकता वाले लोग

राष्ट्रपति कोविन्द ने कहा कि भारत-रत्न से अलंकृत खान अब्दुल गफ्फार ख़ान इसी विश्वविद्यालय के छात्र रहे।

डॉक्टर युसुफ मोहम्मद दादू दक्षिण अफ्रीका की आज़ादी की लड़ाई में पहली कतार के सेनानियों में थे।

डाक्टर ज़ाकिर हुसैन ने यहां शिक्षा प्राप्त की और यहां वाइस चान्सलर भी रहे। उन्‍होंने कहा कि डॉक्टर अब्दुल कलाम का जीवन हर भारतवासी को प्रेरणा देता है।

राष्ट्रपति ने कहा कि मुझे बहुत खुशी होती है कि आज के नौजवान, उनको एक आदर्श के रूप में देखते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story