logo

मऊ में SP-BSP-TMC पर बरसे PM मोदी, बोले- बौखलाए हुए हैं महामिलावटी, जनता ने बिगाड़ दिया सारा गुणा गणित

लोकसभा चुनाव 2019 के सातवें चरण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के मऊ में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर जमकर हमले किए। यही नहीं टीएमसी के साथ चल रहे तनाव को लेकर उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा।

मऊ में SP-BSP-TMC पर बरसे PM मोदी, बोले- बौखलाए हुए हैं महामिलावटी, जनता ने बिगाड़ दिया सारा गुणा गणित

लोकसभा चुनाव 2019 के सातवें चरण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के मऊ में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर जमकर हमले किए। यही नहीं टीएमसी के साथ चल रहे तनाव को लेकर उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा। चुनावी रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने क्या कुछ कहा, नीचे पढ़ें उनके भाषण की प्रमुख बातें-

1. वो महामिलावटी जो महीनेभर पहले तक मोदी हटाओ का राग अलाप रहे थे, वो आज बौखलाए हैं। उनकी पराजय पर देश ने मुहर लगा दी है। उत्तर प्रदेश ने तो इनका सारा गुणा गणित ही बिगाड़ दिया है।

2. देश इन महामिलावटी लोगों की सच्चाई पहले दिन से जानता है कि मोदी हटाना तो मात्र एक बहाना था साल में इन्हें अपने भ्रष्टाचार के पाप को छिपाना था।

3. मोदी हटाओ का नारा तो महामिलावटियों का बहाना था, असल में इन्हें अपने अपने भ्रष्टाचार के पाप को छुपाना था, इसलिए ये कोशिश कर रहे हैं कि देश में जैसे-तैसे खिचड़ी सरकार बन जाए। ये एक मजबूर सरकार चाहते थे, जिसे वो अपनी जरूरत के हिसाब से ब्लैकमेल कर सकें।

4. उत्तर प्रदेश में सपा बसपा ने जाति के आधार पर एक अवसरवादी गठबंधन किया। लखनऊ में एसी कमरें में बैठकर तो डील हो गयी, लेकिन जमीन से कटे हुए ये नेता अपने कार्यकर्ताओं को भूल गए। जिसका ये नतीजा निकला कि सपा और बसपा के कार्यकर्ता आज भी एक दूसरे पर हमले कर रहे हैं।

5. इन लोगों के कुछ जातियों को अपना गुलाम समझ लिया था, 2014 में पहली बार समझने और 2017 में दूसरी बार समझाने के बाद उत्तर प्रदेश के लोग 2019 में अच्छे से समझाने जा रहे हैं कि जातियां किसी की गुलाम नहीं हैं।

6. अब बुआ हो या बबुआ हो, इन लोगों ने खुद को गरीबों से इतना दूर कर लिया है, इन्होने अपने आसपास पैसे की, वैभव की और अपने दरबारियों की इतनी बड़ी दीवार खड़ी कर ली है की अब इन्हें गरीबों का दुःख नजर नहीं आता।

7. मैं उन किसान परिवारों के बैंक खाते में सीधी मदद देने में जुटा हूं, जिन्हें छोटे-छोटे खर्च के लिए भी कर्ज लेना पड़ता था।

8. कुछ दिन पहले राजस्थान के अलवर में एक दलित बेटी के साथ गैंगरेप किया गया था। वहां बहन जी के समर्थन से कांग्रेस की सरकार चल रही है। कांग्रेस की सरकार ने चुनाव को देखते हुए उस दलित बेटी के साथ हुए इस राक्षसी अपराध को छिपाने की कोशिश की। बहन जी सब जानती हैं, लेकिन कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस लेने के बजाय वो मोदी को गालियां देने में जुटी हैं।

9. मैं यहां की और पूर्वांचल की महिलाओं को विशेष आग्रह करूंगा कि वो ऐसे महिला विरोधी दलों के खिलाफ पूरी ताकत से मतदान करे। महिलाओं की गरिमा और उनकी मर्यादा एवं हितों के लिए मतदान करें।

10. मैं यहां की और पूर्वांचल की महिलाओं को विशेष आग्रह करूंगा कि वो ऐसे महिला विरोधी दलों के खिलाफ पूरी ताकत से मतदान करे। महिलाओं की गरिमा और उनकी मर्यादा एवं हितों के लिए मतदान करें।

11. महिला हितों, महिला सुरक्षा के लिए हमारी सरकार प्रतिबद्ध है। आजादी के इतिहास में पहली बार, रेप केस में फांसी की सज़ा का प्रावधान इस चौकीदार ने किया है।

12. सपा-बसपा ने यहां से ऐसे उम्मीदवार को टिकट दिया है जो बलात्कार के आरोप में भगौड़ा है। समाजवादी पार्टी का इतिहास तो लोग जानते हैं, लेकिन बहन जी आप क्या ऐसे उम्मीदवार के लिए वोट मांगेगी?

13. कमल के निशान पर बटन दबाने का मतलब है, बलात्कारियों को फांसी की सज़ा। कमल के निशान पर बटन दबाने का मतलब है, हर घर शौचालय, हर घर में पानी की सुविधा।

14. बहन जी ने पश्चिम बंगाल को लेकर मुझ पर निशाना साधा है। चुनाव आयोग को भी आड़े हाथों लिया है। जिस तरह ममता दीदी वहां पर यूपी-बिहार और पूर्वांचल के लोगों पर निशाना साध रही हैं, मुझे लगा बहन मायावती इस पर ममता दीदी को जरूर खरी-खोटी सुनाएंगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

15. कुछ महीने पहले जब पश्चिम मिदनापुर में मेरी सभा थी तो वहां टीएमसी के गुंडों द्वारा अराजकता फैलाई गयी थी। इसके बाद ठाकुरनगर में तो ये हालत कर दी गई थी कि मुझे अपना संबोधन बीच में छोड़कर मंच से हट जाना पड़ा था।

16. टीएमसी के गुंडों की ये दादागीरी परसों रात भी देखने को मिली है। परसों कोलकाता में भाई अमित शाह के रोड शो के दौरान टीएमसी के गुंडों ने ईश्वर चंद विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ दिया। ऐसा करने वालों को कठोर से कठोर सज़ा दी जानी चाहिए।

17. सत्ता के नशे में ममता दीदी लोकतंत्र विरोधी मानसिकता में बंगाल में सब कुछ कर रही है। दीदी का रवैया तो मैं बहुत दिनों से देख रहा हूं, अब इसे पूरा देश भी देख रहा है।

Latest

View All

वायरल

View All

गैलरी

View All
Share it
Top