Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कुंभ के सफल आयोजन के लिए कर्मचारियों को मिलेगा एक महीने का बोनस

प्रयागराज में 15 जनवरी से 4 मार्च के बीच हुए कुंभ मेले का मंगलवार को समापन हुआ। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुंभ के सफल आयोजन पर अधिकारियों और कर्मचारियों की पीठ तो थपथपाई ही, उन्हें एक महीने का वेतन बोनस के रूप में देने और विशेष मेडल के साथ प्रमाण पत्र देने की बात भी कही है।

कुंभ के सफल आयोजन के लिए कर्मचारियों को मिलेगा एक महीने का बोनस

प्रयागराज में 15 जनवरी से 4 मार्च के बीच हुए कुंभ मेले का मंगलवार को समापन हुआ। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुंभ के सफल आयोजन पर अधिकारियों और कर्मचारियों की पीठ तो थपथपाई ही, उन्हें एक महीने का वेतन बोनस के रूप में देने और विशेष मेडल के साथ प्रमाण पत्र देने की बात भी कही है।

सीएम योगी ने कहा कहा कि प्रयागराज कुंभ ने अपने आयोजन के दौरान कई ऐसे कीर्तिमान स्थापित किए, जो आने वाले कुंभ ही नहीं कई अन्य आयोजनों के लिए उदाहरण साबित होंगे।
समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि बोलते हुए सीएम ने कहा, 2013 के कुंभ में मॉरिशस के प्रधानमंत्री संगम स्नान के लिए आए थे लेकिन गंदगी और बदबू देखकर वापस लौट गए थे। जबकि इस बार कुंभ में बिना किसी कार्यक्रम के वह प्रयागराज पहुंचे और उन्होंने 400 डेलिगेट्स के साथ संगम में स्नान भी किया। यह एक बड़े बदलाव का संकेत है। यूपी अब बदल रहा है।
उन्होंने कहा कि कुंभ के दौरान 24 करोड़ लोग प्रयागराज पहुंचे। यह विश्व के सिर्फ 4 देशों की जनसंख्या से कम लोगों की संख्या है। जिस उत्तर प्रदेश का नंबर पर्यटन में 17वें स्थान पर था, कुंभ के आयोजन के बाद वह पहले स्थान पर पहुंच गया है। कुंभ और अप्रवासी भारतीय सम्मेलन के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस की छवि भी बदली है। यह प्रदेश के उज्जवल भविष्य का संकेत है।
जो भी आया कुंभ के इंतजामों की तारीफ की
योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जिस तरह भारत एक महाशक्ति के रूप में उभर रहा है, उसकी छवि भी कुंभ के दौरान देखने को मिली। जो भी कुंभ में आया, उसने यहां के इंतजामों की तारीफ की।
उन्होंने कहा कि पहले प्रवासी भारतीय सम्मेलनों में 500 से अधिक लोग नहीं आते थे। जबकि इस बार सात हजार के करीब लोग प्रवासी भारतीय सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे और 3200 ने कुंभ में भी स्नान किया।
मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि कुंभ ने स्वच्छता को लेकर लोगों की सोच बदली और यही कारण था कि प्रधानमंत्री खुद समापन से पहले यहां पहुंचे। उन्होंने न सिर्फ संगम में स्नान किया बल्कि स्वच्छता में सहायक बने स्वच्छता कर्मियों के पैर भी धुले।
Next Story
Top