logo
Breaking

राहुल बाबा के गुरु-घंटाल मणिशंकर अय्यर ने मोदी जी के लिए अपशब्द कहे, लेकिन राहुल बाबा चुप रहे: अमित शाह

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह लोकसभा चुनाव 2019 के सातवे चरण के चुनाव प्रचार में जुटे हैं। इसी क्रम में अमित शाह उत्तर प्रदेश के महाराजगंज पहुंचे हैं। यहां पर अमित शाह ने एक चुनाव सभा को संबोधित करते हुए विरोधियों को निशाने पर लिया है।

राहुल बाबा के गुरु-घंटाल मणिशंकर अय्यर ने मोदी जी के लिए अपशब्द कहे, लेकिन राहुल बाबा चुप रहे: अमित शाह

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह लोकसभा चुनाव 2019 के सातवे चरण के चुनाव प्रचार में जुटे हैं। इसी क्रम में अमित शाह उत्तर प्रदेश के महाराजगंज पहुंचे हैं। यहां पर अमित शाह ने एक चुनाव सभा को संबोधित करते हुए विरोधियों को निशाने पर लिया है।

अमित शाह ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं जब महराजगंज आया हूं उससे पहले मैं देश के हर कोने-कोने में गया। वहां बस एक ही नार सुनाई पड़ रहा है- मोदी, मोदी...।

ये नारा कोई चुनावी नारा नहीं है ये नारा देश की जनता के मन से निकाल हुआ नरेन्द्र मोदी जी को आशीर्वाद है। देश की जनता चाहती है कि मोदी जी फिर से देश के प्रधानमंत्री बनें। पिछले पांच साल में मोदी जी की सरकार ने देश के 50 करोड़ लोगों के जीवन स्तर को ऊपर उठाने का काम किया है।

देश की 7 करोड़ गरीब महिलाओं को गैस सिलेंडर दिया। 8 करोड़ घरों में शौचालय बनवाकर गरीब माताओं-बेटियों को सम्मान से जीने का अधिकार दिया।

2.5 करोड़ लोगों को घर देने और 50 करोड़ गरीबों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ देने का काम मोदी सरकार ने किया है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि राहुल बाबा के परिवार की सरकार 55 साल तक चली, लेकिन गरीबों के मुफ्त इलाज की कोई योजना नहीं थी। मोदी जी की सरकार ने गरीबों के इलाज के लिए आयुष्मान भारत योजना शुरु की। आज इस योजना से करीब 26 लाख लोगों का मुफ्त इलाज हो चुका है।

अमित शाह ने आगे कहा कि पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकियों पर कार्रवाई के बाद देश में उत्साह का माहौल था, मिठाइयां बंट रही थी, लेकिन राहुल बाबा और अखिलेश के कार्यालय में मामत था, इनके चहरे का नूर उड़ गया, जैसा कोई इनके अपने को मारा हो।

मणिशंकर अय्यर जो राहुल बाबा के गुरु-घंटाल हैं, उन्होंने मोदी जी के लिए अपशब्द कहे, लेकिन राहुल बाबा चुप रहे, कुछ नहीं बोले। देश के प्रधानमंत्री के अपशब्द कोई सहन कर सकता है क्या?

Share it
Top