Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लालू यादव की पैरवी कर फंसे जालौन के डीएम, सीएम योगी ने दिए जांच के आदेश

उत्तर प्रदेश के जालौन के डीएम पर चारा घोटाले की सुनवाई कर रहे जज शिवपाल सिंह को कॉल कर राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव को बरी करने की सिफारिश करने का आरोप लगा है।

लालू यादव की पैरवी कर फंसे जालौन के डीएम, सीएम योगी ने दिए जांच के आदेश
X

उत्तर प्रदेश के जालौन के DM पर चारा घोटाले की सुनवाई कर रहे जज शिवपाल सिंह को कॉल कर राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव को बरी करने की सिफारिश करने का आरोप लगा है।

इस खुलासे के बाद यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ एक्शन में आ गए हैं। सीएम ने झांसी के कमिश्नर को इस मामले की जांच के आदेश देते हुए जल्द से जल्द रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

सीएम योगी के आदेश के बाद झांसी के कमिश्नर अमित गुप्ता ने डीएम डॉ. मन्नान अख्तर और SDM भैरपाल सिंह के खिलाफ जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें- VIDEO: जयपुर में पेट्रोल पंप कर्मियों पर बदमाशों ने जमकर बरसाए लाठी-डंडे, CCTV में कैद हुई घटना

गौरतलब है कि लालू की सजा पर सुनवाई के दौरान जज ने भी सिफारिश की बात का जिक्र किया था लेकिन उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया था।

लालू केस में फैसला सुनाने वाले जज शिवपाल सिंह जालौन के शेखपुर खुर्द गांव के ही रहने वाले हैं। कुछ लोगों ने उनकी जमीन पर कब्जा जमा लिया और बीचों-बीच चक रोड निकाल दिया, जिससे जज और उनके परिजन परेशान हैं।

देवघर कोषागार से अवैध निकासी के दौरान जज शिवपाल ने लालू से कहा था कि आपकी पैरवी के लिए बहुत लोगों के कॉल आ रहे हैं। जज के इस बयान के बाद राजनीति में भूचाल आ गया था।

वहीं जज के बयान पर राजद नेता शिवानंद तिवारी ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि अगर जज को किसी ने फोन किया तो उस पर कार्रवाई क्यों नहीं किए। हालांकि मामले में जालौन डीएम डॉ. मन्नान अख्तर ने कहा है कि मैंने किसी को फोन नहीं किया और ना ही इस बारे में कोई बात की।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story