Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

VIDEO: मंच पर अपमान से आहत ग्राम विकास अधिकारी ने की खुदकुशी, चार आरोपी गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एक ग्राम विकास अधिकारी ने कथित तौर पर जातीय उत्पीड़न और भेदभाव से तंग आकर खुदकुशी कर ली। ग्राम विकास अधिकारी त्रिवेंद्र कुमार दलित समुदाय से ताल्लुक रखता था। उनका एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें सार्वजनिक रूप से अपमानित किया जा रहा है।

वीडियोः ग्राम विकास अधिकारी ने की खुदकुशी, भारतीय किसान यूनियन के नेताओं पर उत्पीड़न का आरोपLakhimpur Kheri VDO Trivendra Kumar Committed Suicide After Public Humiliation

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एक ग्राम विकास अधिकारी ने कथित तौर पर जातीय उत्पीड़न और भेदभाव से तंग आकर खुदकुशी कर ली। ग्राम विकास अधिकारी त्रिवेंद्र कुमार दलित समुदाय से ताल्लुक रखता था। उनका एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें सार्वजनिक रूप से अपमानित किया जा रहा है।



खबरों के मुताबिक बीते दिनों लखीमपुर खीरी जिले के कुंभी ब्लॉक के अमीन नगर में एक किसान पंचायत के दौरान भारतीय किसान यूनियन लोकतांत्रिक संगटन के प्रदेश अध्यक्ष राकेश कुमार सिंह और जिलाध्यक्ष श्याम शुक्ला के नेतृत्व में बैठक हुई। इसी दौरान भारतीय किसान यूनियन के नेताओं ने त्रिवेंद्र कुमार को मंच पर बुलाकर उनका अपमान किया।

खुदकुशी से पहले त्रिवेंद्र कुमार ने अपने पिता के नाम एक सुसाइड नोट भी लिखा है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि मैं त्रिवेंद्र कुमार ग्राम विकास अधिकारी के पद पर पोस्टे हूं। वहां पर किसान यूनियन और ग्राम प्रधानों के द्वारा मुझे कथित तौर पर प्रताड़ित किया जा रहा हूं जिससे मैं बहुत परेशान हूं।



सुसाइड नोट में उन्होंने आगे लिखा है कि मुझे गलत-गाली और आरक्षण के खिलाफ बोला जाता है। मैं अपने परिवार के लोगों से बहुत प्यार व विश्वास करता हूं। वहां ब्लॉक पर मेरा मजाक बनाया जाता है। अगर मुझे कुछ होता है तो उसका जिम्मेदार सिर्फ किसान यूनियन पार्टी के अध्यक्ष, रसूलपुर (प्रधान), देवरिया (प्रधान), देवरिया (प्रधान) पुत्र पप्पू ही हैं। मुझे दिमागी रूप से ये पार्टी व प्रधान प्रताड़ित करते हैं।











त्रिवेंद्र ने आगे लिखा कि मैं अपने आप से विफल हो गया हूं। मेरे मरने के बाद मेरे परिवार को कोई भी परेशान नहीं करेगा। मैं अपने स्वयं की इच्छा से मरने जा रहा हूं। परंतु मेरे मर जाने के बाद पार्टी अध्यक्ष व प्रधानों को कथित रूप से सजा मिले जिससे यह किसी और को परेशान न कर सकें।

वहीं इस मामले लखीमपुर खीरी पुलिस का बयान भी सामने आया है। इस मामले में कार्रवाई की गई है। खीरी पुलिस ने एक ट्वीट में बताया कि उक्त घटना के संबंध में प्राप्त तहरीर के आधार पर विभिन्न धाराओं में 09 नामजद अभियुक्तों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर त्वरित कार्यवाही करते हुए 04 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है। शेष अभियुक्तों की अतिशीघ्र गिरफ्तारी हेतु सार्थक प्रयास जारी हैं।

Next Story
Share it
Top