Breaking News
अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने तालिबान के साथ शर्तें रखते हुए युद्धविराम की घोषणा, तालिबान का अभी तक कोई रिस्पांस नहींमौसम विभाग अलर्ट: अगले तीन घंटों में यूपी के 11 जिलों बारिश की संभावनापाक आर्मी को गले लगाने पर सिद्धू की मुश्किल बढ़ीदिल्ली समेत एनसीआर में मौसम हुआ सुहाना, कई इलाकों में झमाझम बारिशअंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कमर टूटी, लंदन पुलिस को मिली बड़ी कामयाबीरेड अलर्ट : केरल में बाढ़ से अबतक 357 लोगों की मौत, NDRF का अब तक का सबसे बड़ा अभियान जारीअटल बिहारी वाजपेयीः अस्थियों को समेटनें पहुंची बेटी, हरिद्वार विसर्जित होंगी अटल जी की अस्थियांआज हरिद्वार में होगा अटल बिहारी वाजपेयी का अस्थि विसर्जन, पीएम और शाह भी रहेंगे मौजूद
Top

झांसी: डॉक्टरों ने तकिये की जगह सिर के नीचे रख दिया युवक का कटा हुआ पैर, देखें वीडियो

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Mar 11 2018 1:18AM IST
झांसी: डॉक्टरों ने तकिये की जगह सिर के नीचे रख दिया युवक का कटा हुआ पैर, देखें वीडियो

उत्तर प्रदेश के झांसी से डॉक्टरों की एक करतूत सामने आई है जिसे देखकर हर कोई सकते में है। दअसल यहां पर एक मेडिकल कॉलेज में घायल युवक का पैर काटने के बाद डॉक्टरों ने उसके कटे हुए पैर को ही तकिया बनाकर युवक के सिर के नीचे रख दिया।

इस मामले का वीडियो वायरल हो रहा है। वहीं मेडिकल कॉलेज ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। आपको बता दें कि सड़क हादस में घायल हुए एक युवक को इलाज के लिए शनिवार को शहर के महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था।

घायल युवक की हालत बेहद नाजुक होने के डॉक्टरों को उसका बायां पैर काटना पड़ा। कटे हुए पैर के नीचे डॉक्टरों ने तकिया रख दिया पर सिर के नीचे रखने के लिए उनके पास कुछ नहीं था तो उन्होंने युवक का कटा हुआ पैर ही तकिये की तरह युवके के सिर के नीचे लगा दिया।

बता दें कि युवक शहर के मऊरानीपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला है। वही घायल यवुक के परिजन बर्बर रवैये को देखकर विचलित हो गए। इस वीडियो के वायरल होने के बाद मेडिकल कॉलेज ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच के आदेश दे दिए हैं। 

यह भी पढ़ें- राहुल गांधी से मुलाकात की होती तो गुजरात चुनाव नहीं जीत पाती भाजपा: हार्दिक पटेल

महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज की प्रिंसिपल साधना कौशिक ने कहा कि मरीज को तत्काल चिकित्सा सहायता दी गई। मरीज के सिर को ऊपर उठाने के लिए डॉक्टर कुछ तलाश रहे थे, तभी मरीज के परिचित ने कटे हुए पैर का इस्तेमाल किया। 

इस मामले की जांच के लिए एक समिति बनाई गई है। अगर स्टाफ की गलती हुई तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

उन्होंने बताया कि एक सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर, एक ईएमओ और इंचार्ज नर्स के साथ एक अन्य को सस्पेंड कर दिया गया है। मरीज का इलाज कर रहे डॉक्टर के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू हो चुकी है।


ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
jhansi maharani laxmi bai medical college doctor used severed leg of youth as pillow

-Tags:#Uttar Pradesh#Jhansi#Medical College
mansoon
mansoon

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo