Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुरादाबाद: भारतीय रेलवे ने कायम किया रिकार्ड, महज 7 घंटे में बनाया पुल

नजीबाबाद-मुरादाबाद के बीच बुंदकी स्टेशन के पास डाउन लाइन पर सौ साल से अधिक पुराने जर्जर पुल को बनाकर रेलवे के इंजीनियरिंग विभाग ने काबिल-ए-तारीफ काम किया है।

मुरादाबाद: भारतीय रेलवे ने कायम किया रिकार्ड, महज 7 घंटे में बनाया पुल
X

इन दिनों भारतीय रेलवे अपनी देरी के कारण काफी अलोचनाओं का शिकार हो रही है। इस बीच भारतीय रेलवे ने अपने काम को लेकर एक मिसाल पेश कर दी है। दरअसल, भारतीय रेल ने उत्तर प्रदेश में सिर्फ 7 घंटों में ही करीब सौ साल पुराने पुल को तोड़कर उसकी जगह नया पुल बना दिया।

नजीबाबाद-मुरादाबाद के बीच बुंदकी स्टेशन के पास डाउन लाइन पर सौ साल से अधिक पुराने जर्जर पुल को बनाकर रेलवे के इंजीनियरिंग विभाग ने काबिल-ए-तारीफ काम किया है। रेलवे की टीम ने सात घंटे में पुराने पुल को तोड़कर उसकी जगह नया पुल बनाया।

इसे भी पढ़ेंः झटका! लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे का टोल हुआ महंगा, देने होंगे 570 रूपए

नए पुल से सबसे पहले देहरादून से इलाहाबाद जाने वाली लिंक एक्सप्रेस सफलतापूर्वक गुजरी। पहले बुंदकी स्टेशन के नज़दीक डाउन लाइन पर बने पुराने पुल से ट्रेनों की गति कमजोर पुल के कारण बेहद धीमी हुआ करती थी।

ऐसे हुआ काम

3 जनवरी की सुबह 9.35 बजे प्रवर मंडल अधीक्षण अभियंता प्रथम पारितोष गौतम तकनीकी स्टाफ के साथ वहां पहुंचे थे। पूरी टीम ने पुल के ऊपर बनी रेल लाइन को हटाने, पुराने पुल को तोड़ने और मलबा हटाने का काम दोपहर 1.24 बजे तक पूरा कर डाला था। जिसके बाद लगभग दोपहर 3 बजे तक फैब्रिकेटिंग मैटेरियल से पुल का ढांचा रख दिया था।

सौ किमी से दौड़ेगी ट्रैन

महज़ सात घंटे 20 मिनट बाद शाम सवा 5 बजे के क़रीब से ही नए पुल पर लाइन डालने का काम भी पूरा कर लिया गया। शाम 5.40 बजे ही देहरादून से इलाहाबाद जाने वाली लिंक एक्सप्रेस को धीमी गति से नए पुल से गुज़ारा गया। मंडल रेल प्रबंधक अजय कुमार सिंघल ने उम्मीद जताई है कि अब बुंदकी से गुज़रनी वालीं ट्रेनें सौ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकेंगी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story