Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत को मोदी जैसे सशक्त प्रधानमंत्री की जरूरत : हेमा मालिनी

मथुरा लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी एवं बालीवुड अभिनेत्री हेमा मालिनी ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत को नरेंद्र मोदी जैसे सशक्त प्रधानमंत्री की जरूरत है क्योंकि उनके नेतृत्व में देश प्रगति कर रहा है।

भारत को मोदी जैसे सशक्त प्रधानमंत्री की जरूरत : हेमा मालिनी

मथुरा लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी एवं बालीवुड अभिनेत्री हेमा मालिनी ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत को नरेंद्र मोदी जैसे सशक्त प्रधानमंत्री की जरूरत है क्योंकि उनके नेतृत्व में देश प्रगति कर रहा है। सोनीपत लोकसभा सीट से भाजपा के प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के लिए यहां आईं हेमा ने कहा कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में देश की स्थिति खराब होती चली गई।

कहीं कोई विकास नहीं हो रहा था। अर्थव्यवस्था ठप्प थी। भ्रष्टाचार चरम पर था और आतंकवादी घटनाएं बढ़ने लगी थीं। उन्होंने कहा कि 2014 में बहुमत मिलने पर राजग सरकार सत्ता में आई और नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने। तब से लेकर अब तक देश ने पीछे मुड़ कर नहीं देखा। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश प्रगति पथ पर है। हेलीकॉप्टर से एकलव्य स्टेडियम में उतरीं हेमामालिनी वाहनों के काफिले के साथ टाउन हाल तक आईं जहां उनकी सभा थी।

हेमामालिनी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले पांच साल में समाज के हर वर्ग के लिए काम किया है। आज उनकी वजह से ही भारत देश विश्व में एक ताकत बन कर उभरा है। देश को मोदी जैसे सशक्त प्रधानमंत्री की जरूरत है। उन्होंने विपक्षी दलों पर प्रधानमंत्री की बढ़ती लोकप्रियता से परेशान होने का आरोप लगते हुए कहा पांच साल पहले देश में आतंकवादी घटनाएं होती थीं तब कांग्रेस सरकार कुछ नहीं कर रही थी।

और ना ही पाकिस्तान के खिलाफ कोई कार्रवाई हो रही थी। कांग्रेस सरकार के कार्यकाल के दौरान ही मुंबई में आतंकवादी हमला हुआ लेकिन कांग्रेस ने कुछ नहीं किया। अब पुलवामा हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना को कार्रवाई की खुली छूट दी और हमारे जवानों ने भी पाकिस्तान को उसकी ही भाषा में जवाब दिया। हेमा ने कहा कि आप लोग पिछले 23 साल से मुझे अभिनेत्री के तौर पर देखते रहे हैं।

समय बीतता गया और अब वह (अभिनेत्री) भाजपा की एक नेता बन कर आप लोगों के बीच हैं। वह भाजपा से 20 साल से जुड़ी है और मुझे गर्व है कि यह पार्टी किसी एक नेता या परिवार की नहीं है बल्कि यह पार्टी आम लोगों की है।'' सभा के पहले हेमामालिनी को एक रोडशो भी करना था लेकिन भीड़ नही जुटने के कारण उन्हें सीधा टाउन हाल लेकर आया गया। आयोजकों की खासी मशक्कत के बाद भी 500 से भी कम लोग हेमामालिनी को सुनने पंहुचे।

Next Story
Share it
Top