Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

संसदीय परम्पराओं को मजबूत करने में हमेशा याद किये जायेंगे पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखरः योगी आदित्यनाथ

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर सही मायने में सच्चे समाजवादी नेता थे।

संसदीय परम्पराओं को मजबूत करने में हमेशा याद किये जायेंगे पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखरः योगी आदित्यनाथ
X

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर सही मायने में सच्चे समाजवादी नेता थे। चन्द्रशेखर ने हमेशा देश के गरीब, किसान, मजदूर एवं वंचित वर्गों के कल्याण तथा इन वर्गों के हितों में लगातार संसद में अपनी आवाज बुलंद की। संसद में उनके योगदान के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सांसद भी चुना गया। देश में संसदीय परम्पराओं को मजबूत करने में उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा।

सीएम रविवार को पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर की पुण्यतिथि पर विधानसभा भवन के सेंट्रल हॉल में ‘राष्ट्रपुरुष चन्द्रशेखर-संसद में दो टूक भाग-दो' पुस्तक के विमोचन अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। कार्यक्रम के प्रारम्भ में उन्होंने चन्द्रशेखर के चित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।
उन्होंने कहा कि उन्हें चन्द्रशेखर के साथ संसद में कार्य करने का अवसर मिला है। संसद में बहस के दौरान विभिन्न विषयों पर उनके द्वारा व्यक्त किए गए विचार दलगत राजनीति से हटकर मौलिक एवं भारतीय परिप्रेक्ष्य में प्रयुक्त होने वाले थे। उन्होंने अपने मूल्यों और आदर्श के साथ कभी समझौता नहीं किया। उनका मानना था कि अगर हौसला नहीं होगा तो फैसला नहीं होगा।
सीएम ने कहा कि पद एवं प्रतिष्ठा को लेकर चन्द्रशेखर में कोई अहम नहीं था। वे हमेशा भारतीय परम्परा और राष्ट्र की मर्यादा के प्रबल समर्थक रहे। कोई व्यक्ति हमेशा नहीं रहता, लेकिन विचार शाश्वत होते हैं। चन्द्रशेखर वैचारिक क्रांति के प्रतीक थे। विचारधारा का अंतिम उद्देश्य लोक कल्याण एवं राष्ट्र कल्याण होना चाहिए।
उन्होंने कहा कि चन्द्रशेखर हमेशा बिना लाग-लपेट के संसद में बेबाकी से अपनी बात कहते थे। निश्चित रूप से कुछ लोगों को उनके विचार कठोर लगते रहे होंगे, लेकिन वे देशहित में ही बोलते थे। वे हमेशा संविधान के दायरे में रहकर लोकतांत्रिक ढंग से राजनीति करने के हिमायती रहे। इसीलिए वर्ष 1975 में जब देश में आपातकाल लगाया गया तो उस समय उन्होंने कांग्रेस पार्टी को छोड़ दिया।
योगी ने कहा कि चन्द्रशेखर का मानना था कि भारत जैसे देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में घरेलू और कुटीर उद्योग का महत्वपूर्ण योगदान हो सकता है। इसके दृष्टिगत वर्तमान सरकार ने प्रदेश में ‘एक जिला एक उत्पाद' योजना लागू की है। वह कॉमन सिविल कोड को जरूरी मानते थे। उनका कहना था कि समाज और देश के हित में यह आवश्यक है कि सभी के लिए कानून एक समान हो।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story