Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

AMU में जिन्ना की तस्वीर पर बढ़ा बवाल, कैंपस में कड़ी सुरक्षा, इंटरनेट सेवा बंद

जिन्ना की तस्वीर को लेकर घमासान के बाद सोशल मीडिया पर फैल रही अफवाह के कारण इंटरनेट सेवाओं को बंद करने का फैसला किया गया।

AMU में जिन्ना की तस्वीर पर बढ़ा बवाल, कैंपस में कड़ी सुरक्षा, इंटरनेट सेवा बंद

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में जिन्ना की तस्वीर को लेकर घमासान बढ़ता ही जा रहा है। तनाव को देखते हुए जिला प्रशासन ने ऐतिहादी कदम उठाते हुए कैंपस की सुरक्षा कड़ी कर दी है। वहीं दूसरी तरफ यूनिवर्सिटी परिसर में एक मीडियाकर्मी के साथ मारपीट की खबर है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूनिवर्सिटी परिसर में हवाई फायरिंग भी की गई है। बवाल के बाद सोशल मीडिया पर फैल रही अफवाह के कारण इंटरनेट सेवाओं को बंद करने का फैसला किया गया।

शुक्रवार को मामला बढ़ता देख जिला प्रशासन ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी कैंपस की सारी इंटरनेट सेवाएं 5 मई तक बंद करने के आदेश दिए गए हैं। लाठीचार्ज के विरोध और हिंदू संगठनों पर कार्रवाई की मांग को लेकर एएमयू स्टूडेंट यूनियन ने कक्षाओं का बहिष्कार कर रखा है।

इसका असर दिखा और यूनिवर्सिटी में कक्षाएं नहीं चलीं। कई छात्र तो गुरुवार को हुए बवाल के बाद यूनिवर्सिटी पहुंचे ही नहीं। कुछ छात्र हंगामे के लिए एकत्र हुए लेकिन यहां पहले से तैनात भारी पुलिस फोर्स ने उन्हें कैंपस और आस-पास एकत्र नहीं होने दिया।

इसे भी पढ़ें- तिहाड़ जेल की खुली पोल: आरोपी को ब्लेड मारने पर मिलते हैं पैसे, सांसद ने सुनाई दास्तान

सीएम योगी ने घटना पर मांगी रिपोर्ट

उधर, सीएम योगी आदित्यनाथ ने अलीगढ़ प्रशासन से घटना पर रिपोर्ट मांगी है। इस बीच एएमयू में पत्रकारों से बदसलूकी और मारपीट की भी बात सामने आ रही है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में धरने पर बैठे छात्रों ने मीडिया कर्मियों को बुलाया और उसके बाद एक फ्रीलांस फोटो जर्नलिस्ट की जमकर पिटाई कर दी।

भाजपा सांसद के पत्र के बाद शुरू हुआ विवाद

आपको बता दें कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में छात्रसंघ हॉल में मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगी है। इस तस्वीर को लेकर यहां से सांसद सतीश गौतम ने एएमयू वीसी को पत्र लिखकर स्पष्टीकरण मांगा था। उनके इस पत्र के बाद यहां विवाद शुरू हो गया।

एक पक्ष जिन्ना की तस्वीर हटाए जाने की मांग को लेकर अड़ा है तो एएमयू छात्रसंघ ने तस्वीर न हटाने का ऐलान किया है। इस बात को लेकर एएमयू कैंपस में लगातार तनाव जारी है।

गुरुवार को कैंपस में छात्रों के बीच बवाल हुआ था। पुलिस को भीड़ नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा था। जिसके बाद छात्रों ने कक्षाओं के बहिष्कार का ऐलान किया।

इसे भी पढ़ें- GSTN जल्द ही बनेगी सरकारी कंपनी, निजी कंपनियों को मिलेगी इतनी हिस्सेदारी

डीएम ने जारी किया आदेश

जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने आदेश में गुरुवार को हुई घटना का जिक्र करते हुए लिखा कि उन्हें संज्ञान में आया है कि कुछ असामाजिक एवं उपद्रवी लोगों द्वारा झूठी अफवाहें फैलाई जा रही हैं। दुष्प्रचार के लिए कई तरह के वीडियो, फोटो और एसएमएस फैलाए जा रहे हैं।

इसे सांप्रदायिक समरसता और शांति व्यवस्था भंग हो सकती है। उन्होंने सभी कंपनियों को 5 मई की रात 12:00 बजे तक, इंटरनेट की सभी सेवाएं बंद करने के आदेश दिए हैं।

इनपुट- भाषा

Next Story
Top