Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गाजियाबाद : 11 साल की बच्ची से बलात्कार मामले में क्राइम ब्रांच ने किया मदरसे का दौरा, ये है घटना का सच

दिल्‍ली से सटे यूपी के गाजियाबाद में 21 अप्रैल से लापता 11 साल की बच्‍ची को रविवार को साहिबाबाद से बरामद कर लिया गया। वो यहां एक मदरसे में थी। वहां उसका यौन शोषण हुआ और फिर कैद कर रखा गया था।

गाजियाबाद : 11 साल की बच्ची से बलात्कार मामले में क्राइम ब्रांच ने किया मदरसे का दौरा, ये है घटना का सच
X

अपराध शाखा की टीम ने आज फिर से गाजियाबाद के उस मदरसे का दौरा किया, जहां 10 साल की एक लड़की को पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर से लाकर एक किशोर ने कथित तौर पर बलात्कार किया था। इसी मामले के सिलसिले में अपराधा शाखा की टीम ने कल भी मदरसे का दौरा किया था।

दिल्ली पुलिस की टीम ने 22 अप्रैल को लड़की को मुक्त कराया था। इससे पहले 21 अप्रैल को पुलिस को लड़की के पिता ने उसकी गुमशुदगी की सूचना दी थी। यह मामला मंगलवार को अपराध शाखा के पास भेज दिया गया था। पीड़िता का बयान 23 अप्रैल को दर्ज कराया गया था।

यह भी पढ़ें- वायुसेना प्रमुख का बड़ा बयान, भारत की सीमा पर तिब्बत में हवाई ताकत बढ़ा रहा है चीन

इस बीच, दिल्ली में आप के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि यह ‘शर्मनाक' है कि केंद्र और राज्य (उप्र) में भाजपा सत्ता में है और वह आरोपी को गिरफ्तार करने के बजाय ‘विपक्ष की भूमिका' निभाते हुए कैंडल मार्च निकाल रही हैं।

दिल्‍ली से सटे यूपी के गाजियाबाद में 21 अप्रैल से लापता 11 साल की बच्‍ची को रविवार को साहिबाबाद से बरामद कर लिया गया। वो यहां एक मदरसे में थी। वहां उसका यौन शोषण हुआ और फिर कैद कर रखा गया था।

पुलिस ने इस मामले में मदरसे के मौलवी और एक नाबालिग को गिरफ्तार किया है। नाबालिग को बाल सुधारगृह भेज दिया गया है। पुलिस ने मौलवी का बयान लेकर छोड़ दिया। मौलवी को छोड़ने के कारण विभिन्न हिंदू संगठनों ने एनएच-9 पर चार घंटे जाम लगाकर प्रदर्शन किया।

यह भी पढ़ें- राहुल के विमान नें आई तकनीकी गड़बड़ी, हुई इमरजेंसी लैंडिग, जांच के लिए मामला दर्ज

नाबालिग ले गया था मदरसा

वहीं पीड़िता ने बताया कि 21 अप्रैल को दुकान जाने के लिए घर से बाहर निकली थी, तभी उसे पड़ोस की लड़की मिली, जिसने उससे एक दोस्त से मिलवाने के लिए बुलाया। यह वही नाबालिग था, जो उसे मदरसे तक लेकर गया था। पीड़िता ने बताया कि 17 साल का लड़ृका और मदरसे के मौलवी उसका यौन शोषण करते थे और कमरे में कैद कर देते थे।

एक कपड़े में हुई बरामद

जब पीड़िता को मदरसे से छुड़ाने के लिए पुलिस वहां पहुंची थी तो वह एक कपड़ा लपेटे फर्श पर बिछी चटाई पर लेटी हुई थी। जिस कमरे में कैद थी बच्‍ची उसमें थोड़ी-थोड़ी देर में आराम करने मौलवी आता था और रेप करता था।

पुलिस ने बताया कि पिछले साल ही मौलवी को नियुक्त किया गया था। पुलिस इस बात की जांच में भी जुटी है कि कहीं मौलवी अन्य बच्चों की किडनैपिंग में तो शामिल नहीं।

यह भी पढ़ें- कर्नाटक चुनाव : राहुल ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, CBI को बताया केन्द्रीय अवैध खनन ब्यूरो

काल डिटेल खंगाल रही पुलिस

पुलिस ने बताया कि आरोपी नाबालिग के कॉल रिकॉर्ड्स चेक करने पर पाया गया कि वह लापता होने वाले दिन लगातार पीड़िता के संपर्क में रहा। क्राइम ब्रांच कॉल रिकॉर्ड्स खंगालकर यह पता लगाने की कोशिश भी कर रही है कि उसने पीड़िता से यौन शोषण के लिए अन्य किसी से संपर्क किया था कि नहीं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story