Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दारूल उलूम का एक नया फतवा, कहा- तंग व डिजाइनर बुर्का पहनना नाजायज, बताई ये वजह

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के देवबंद स्थित इस्लामिक शिक्षा देने वाली संस्था दारुल उलूम ने इस बार बुर्का पर फतवा जारी किया है।

दारूल उलूम का एक नया फतवा, कहा- तंग व डिजाइनर बुर्का पहनना नाजायज, बताई ये वजह
X

मुस्लिम के लिए फतवों की फेहरिस्त में दारुल उलूम ने एक और फतवा जारी कर दिया है। यूपी के सहारनपुर के देवबंद स्थित इस्लामिक शिक्षा देने वाली संस्था दारुल उलूम ने इस बार बुर्के पर फतवा जारी किया है।

दारुल उलूम के इस्लामी जानकारों के मुताबिक, मुस्लिम महिलाओं को टाइट बुर्के नहीं पहनने चाहिए। ऐसा करने से उनके शरीर के अंग दिखते हैं। साथ ही महिलाओं का डिजाइनर और चुस्त बुर्का पहनना इस्लाम गुनाह है और ये नाजायज भी है।

यह भी पढ़ें- अब Aadhaar को इन 4 स्टेप से घर बैठे करें लिंक, बस करना होगा ये काम

देवबंद के मुस्लिम शख्स ने पूछा सवाल

ये फतवा दारुल उलूम के इफ्ता विभाग ने देवबंद के एक मुस्लिम शख्स के सवाल के जवाब में जारी किया है। शख्स ने सवाल पूछा था कि इस्लाम में मुस्लिम औरतों के लिए शालीनता का क्या पैमाना है।

साथ ही यह भी पूछा था कि क्या औरतों को ऐसे कपड़े पहनने चाहिए, जिसमें उनके अंग जाहिर हो। वहीं युवक ने औरतों के चमकदार बुर्के पहनने को लेकर भी सवाल किया था।

दारुल उलूम ने दिया ये जवाब

मुस्लिम शख्स के इसी सवाल के जवाब में दारुल उलूम देवबंद ने यह जवाब दिया है। साथ ही दारुल उलूम के मुफ्तियों ने ये भी कहा है कि औरत छिपाने की चीज है। औरत के घर से बाहर निकलने पर शैतान उसे घूरता है इसलिए मुस्लिम महिलाओं को बिना किसी जरूरत घर से बाहर नहीं जाना चाहिए।

इस फतवे में मुफ्तियों ने कहा है कि मुस्लिम महिलाएं घर से बाहर निकले तो उन्हें अपने पूरे शरीर को ढकना चाहिए कि उनके अंग बाहर न दिखें। साथ ही उन्हें ढीले कपड़े भी पहनने चाहिए।

देवबंद के मुफ्तियों के अनुसार, डिजाइनर, टाइट, व तंग कपड़े या बुर्का पहन कर बाहर से बाहर के लोग उनके प्रति आकर्षित होते हैं।

यह भी पढ़ें- 200 साल पुरानी है भीमा कोरेगांव जातीय संघर्ष की लड़ाई, जानिए क्यों हुआ था युद्ध

महिला संगठनों ने जताया विरोध

वहीं मुस्लिम महिला संगठनों ने देवबंद के इस फतवे पर विरोध जताया है। उनका कहना है कि ये सवाल गैर-जरूरी समय पर पूछा गया है, जिससे इसे पूछने वाले की मंशा पर ही सवाल उठता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story