Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रतापगढ़: दलित के घर में खाना खाने के बाद सीएम योगी ने लगाई चौपाल, पूछे जनता से सवाल

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ में कानून-व्यवस्था एवं विकास कार्यों की समीक्षा की।

प्रतापगढ़: दलित के घर में खाना खाने के बाद सीएम योगी ने लगाई चौपाल, पूछे जनता से सवाल
X

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ में कानून-व्यवस्था एवं विकास कार्यों की समीक्षा की। योगी ने कानून-व्यवस्था तथा भ्रष्टाचारमुक्त प्रशासन पर विशेष जोर देते हुये कहा कि कानून-व्यवस्था के मामलों में कोई समझौता नहीं किया जाएगा। साथ ही भ्रष्टाचार के कई मामलों में सीधी दण्डात्मक कार्रवाई के भी निर्देश दिये।

उन्होंने जनपद में एन्टी रोमियो अभियान को और सशक्त बनाने तथा विमेन पावर लाइन ‘1090' को प्रभावी ढंग से संचालित किये जाने पर बल दिया। मुख्यमंत्री ने आम आदमी को शासन द्वारा चलायी जा रही लोक कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित कराते रहने के लिये सभी जनपदों में जन सुरक्षा एवं जन सुविधा अभियान संचालित करने के निर्देश दिये।

सीएम योगी ने दिए आदेश

उन्होंने कहा कि वरिष्ठ अधिकारी थानों में जाकर स्वयं इस बात का निरीक्षण करें कि अपराध नियंत्रण के सम्बन्ध में आंकड़े फर्जी तौर पर प्रस्तुत न किये जाये। उन्होंने कहा कि कानून-व्यवस्था या किसी भी मामले में आंकड़ों की बाजीगरी से आम जनता का विश्वास नहीं जीता जा सकता। इसके लिये वास्तविक स्तर पर तथा जमीनी स्तर पर सही प्रयास किया जाना जरूरी है।

अपराध पर प्रभावी नियंत्रण के लिये मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि दागी अधिकारियों को थाने का प्रभार कतई न दिया जाये तथा थानाध्यक्ष थाने के परिसर में ही निवास करें। योगी ने पुलिस प्रशासन एवं जिला प्रशासन की जिम्मेदारी है कि जनता के किसी भी मामले में किसी भी स्तर पर अवैध वसूली को तत्काल रोका जाये।

ग्रामीण जनता द्वारा अपनी आवश्यकता के लिये मिट्टी के खनन को सरकार ने रायल्टीमुक्त कर दिया है, उस पर वसूली की शिकायत नहीं प्राप्त होनी चाहिये। इस सम्बन्ध में शिकायत पाये जाने पर सम्बन्धित के विरुद्ध बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी।

सीएम योगी ने किया कई अधिकारियो निलंबित

जल निगम के पूर्व अधिशासी अभियन्ता के कार्यकाल के दौरान वित्तीय अनियमितता के मामलों पर मुख्यमंत्री ने इस मामले में संलिप्त सभी अधिकारियों/कर्मचारियों को आज ही तक न केवल निलम्बित करने के निर्देश दिये, बल्कि उनके खिलाफ आर्थिक मामलों से सम्बन्धित अपराध की धाराओं में तत्काल कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया।

मुख्यमंत्री ने इस सम्बन्ध में अत्यन्त कड़ाई से कार्यवाही करने का निर्देश देते हुये यह भी कहा कि इस भ्रष्टाचार में संलिप्त सभी अधिकारियों/कर्मचारियों की चल-अचल सम्पत्ति का विवरण तत्काल शासन को भेजा जाये ताकि उनके दोषी पाये जाने पर उनकी सम्पत्ति जब्त किये जाने की कार्यवाही भी की जा सके। गरीब जरूरतमंद बीमार व्यक्तियों के लिये ग्राम निधि से 5000 रूपये की सहायता तत्काल देने की व्यवस्था करने के मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि हर प्रकार की छात्रवृत्तियां साल में दो बार दो अक्टूबर और 26 जनवरी तक खातों में प्राप्त हो जानी चाहिये तथा इसकी समीक्षा इन तिथियों तक न्यूनतम दो बार अवश्य की जाये।

मुख्यमंत्री ने बिजली आपूर्ति की समीक्षा करते हुये गांवों एवं शहरी क्षेत्रों में निर्धारित रोस्टर के अनुरूप निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित कराने के निर्देश देते हुये कहा कि जनप्रतिनिधियों को एक टोल फ्री नम्बर उपलब्ध करा दिया जाये, जिस पर जनता इस सम्बन्ध में अपना फीड बैक तथा शिकायतें उनके माध्यम से तत्काल पहुंचा सके।

योगी ने कहा कि प्रतापगढ़ जनपद आगामी कुम्भ की दृष्टि से अत्यन्त महत्वपूर्ण है तथा यहां से गुजरने वाली सड़कें प्रयाग कुम्भ के लिये यातायात का सबसे महत्वपूर्ण साधन है। इसके लिये इनके निर्माण, संरक्षण और गड्ढामुक्त किये जाने की कार्यवाही समय से पूरी करते हुये इन्हें उच्च गुणवत्ता के साथ हर हाल में आगामी अक्टूबर तक पूरा कर लिया जाये। (भाषा)

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story