Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आरक्षण पर बीजेपी सांसद की मोदी सरकार को धमकी, कहा भारत की धरती पर खून की नदियां बहेंगी

बीजेपी सांसद सावित्री फुले ने आरक्षण को लेकर लखनऊ में एक महारैली का आयोजन भी किया था। फुले ने रैली में सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि आरक्षण कोई भीख नहीं है ब्लकि समाजिक समानता के अधिकार से जु़ड़ा मामला है। बीजेपी सांसद फुले ने धमकी भरे लहजे में सरकार को ललकारते हुए कहा कि अगर सरकार ने आरक्षण को खत्म करने के बारे में सोचा भी तो भारत की धरती पर खून की नदियां बहेंगी।

आरक्षण पर बीजेपी सांसद की मोदी सरकार को धमकी, कहा भारत की धरती पर खून की नदियां बहेंगी
X
बीजेपी सांसद सावित्री फुले ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्टा खोल दिया है। उत्तर प्रदेश के बहराइच से बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने आरक्षण को लेकर कल लखनऊ में अपनी ही सरकार पर हल्ला बोल दिया है। फुले ने वहां एक महारैली का आयोजन भी किया था।
फुले ने रैली में सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि आरक्षण कोई भीख नहीं है ब्लकि समाजिक समानता के अधिकार से जु़ड़ा मामला है। बीजेपी सांसद फुले ने धमकी भरे लहजे में सरकार को ललकारते हुए कहा कि अगर सरकार ने आरक्षण को खत्म करने के बारे में सोचा भी तो भारत की धरती पर खून की नदियां बहेंगी।
फुले ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि देश का संविधान और आरक्षण खतरे में है। फुले ने कहा कि आरक्षण बाबा साहेब का दिया अधिकार है और किसी के बाप दादा या भगवान का नहीं।

गौरतलब है कि सांसद फुले ने पिछले महीने ही इस बात के संकेत दे दिए थे कि अगर केंद्र सरकार ने आरक्षण को खत्म करने की कोशिश की तो वह इसके विरोध में किसी भी हद तक जाने को तैयार है।
यही नहीं बीजेपी सांसद सावित्री बाई ने अपनी ही पार्टी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार आरक्षण को खत्म करने की साजिश कर रही है। सावित्री ने कहा कि वह आरक्षण को लेकर सरकार के मनसुबों को पूरा नहीं होने देगी। और इसके लिए किसी भी बलिदान के लिए तैयार है।
सांसद सावित्री ने कहा कि मैं सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन करूंगी। जिसके तहत मैं 1 अप्रैल से लखनऊ में प्रदर्शन करूंगी। सावित्री बाई फुले ने अपनी ही सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी के भीतर बहुत से ऐसे लोग है जो अब पार्टी में अपने आप को उपेक्षित महसूस कर रहे है।
फुले ने इशारों में राज्य की योगी सरकार पर भी निशाना साधा कि राज्य की सरकार केवल एक विशेष जाति के प्रति ही लगाव रखती है। बता दे कि सावित्री बाई फुले पहली बीजेपी नेता नहीं है जिन्होंने अपनी ही सरकार के खिलाफ मुखर शब्दों में उसकी आलोचना की हो।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story