Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उन्नाव गैंगरेप केस: बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का ऑडियो लीक, अब योगी लेंगे कड़ा एक्शन

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में गैंगरेप के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। अब सेंगर और पीड़िता के चाचा का ऑडियो लीक हो गया है। खबर है कि इस ऑडियो के बाद अब सीएम योगी कड़ा एक्शन ले सकते हैं।

उन्नाव गैंगरेप केस: बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का ऑडियो लीक, अब योगी लेंगे कड़ा एक्शन
X

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में गैंगरेप के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। अब सेंगर और पीड़िता के चाचा का ऑडियो लीक हो गया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और गैंगरेप पीड़ि‍ता के चाचा के बीच बातचीत का ऑडियो सामने आया है। जिसमें विधायक फोन पर धमकी दे रहा है। उत्‍तर प्रदेश सरकार ने मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया है।
ऑडिया का छोटा सा अंतिम अंश...
पीड़िता के चाचा ने कहा कि टिंकू का मेरे पास फोन आया था, दद्दू मैंने आपकी बहुत सेवा की है और आपकी बहुत इज्जत की है।
कुलदीप सिंह सेंगर ने जबाव दिया कि तो क्या अब मेरी इज्जत नहीं करोगे।
तभी पीड़िता के चाचा कहते हैं कि आपने जहां मुझे खड़ा किया वहां मैं खड़ा हुआ नंगे पैर।
कुलदीप सिंह सेंगर फिर कहता है कि एक मिनट मेरी बात सुनो लोग चाहते हैं अब भगवान दुआ से ठीक हुए हो, ये लोग मर जाएं, लड़ाई में सबका नुकसान होता है, हम हमारा-तुम्हारा और सबका. हमने तुमसे यही चीज कही थी ना. तुम हमारे पास आओ, हम तुम मिलकर नया अध्याय शुरू करते हैं।
उसी दौरान पीड़िता के पिता ने कहा कि अतुल को क्या जरूरत थी मारने पीटने की।
कुलदीप सिंह सेंगर: अतुल सगे हैं तुम्हारे या कोई और सगा है तुम्हारा। अतुल अपने काम की मेरे सामने गलती मानेंगे। महेश अपने काम की मेरे सामने गलती मानेंगे। हमारा तुम्हारा परिवार एक होकर रहेंगे। सबको रोको...

ऐसे आया पूरा मामला सामने

बता दें कि उन्‍नाव में एक लड़की ने बीजेपी विधायक पर गैंगरेप का आरोप लगाया है। पीड़ि‍ता के पिता की जेल में मौत के बाद इस मामला और भी ज्यादा बढ़ गया। युवती ने परिवार समेत मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के आवास के सामने आत्‍महत्‍या की कोशिश की तो मीडिया के सामने ये पूरा मामला खुलकर सामने आ गया।

मामले की जांच के लिए बनाई एसआईटी

वहीं उत्‍तर प्रदेश सरकार ने अब इस मामले की जांच के लिए एसआईटी गठन कर जांच शुरू कर दी है। वहीं समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष और पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने मामले की जांच के लिए 5 सदस्‍यीय महिला टीम गठित की है। महिलाओं का यह दल 11 अप्रैल को पीड़िता से मुलाकात करेगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story