Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

निधन के 30 साल बाद मशहूर लेखिका महादेवी वर्मा को भेजा नोटिस, AMC ने बताई वजह

हिंदी की मशहूर लेखिका महादेवी वर्मा ने निधन के 31 साल बाद इलाहाबाद म्युनिसिपल कॉपरेशन ने नोटिस जारी किया है।

निधन के 30 साल बाद मशहूर लेखिका महादेवी वर्मा को भेजा नोटिस, AMC ने बताई वजह
X

हिंदी की मशहूर लेखिका महादेवी वर्मा ने निधन के 31 साल बाद इलाहाबाद म्युनिसिपल कॉपरेशन ने नोटिस जारी किया है। एएमयू ने हाउस टैक्स नहीं भरने को लेकर ये नोटिस जारी किया है।

एएसयू के टैक्स विभाग के अधिकारियों ने महादेवी वर्मा के नाम 48 हजार का हाउस टैक्स का नोटिस भेजा है। इस नोटिस के बाद साहित्य के लोगों ने काफी नाराजगी है।

बता दें कि महादेवी वर्मा का निधन 1987 में हो चुका है। लेकिन एएसयू ने इसे संज्ञान में लिये बिना ही नोटिस जारी कर दिया गया है। अब इस घर में उनका परिवार रहता है। उनके दत्तक पुत्र रामजी पाण्डेय वहां रहते हैं।

इसे भी पढ़ें- आंध्रप्रदेश: लेफ्ट पार्टी का बंद आज, 1300 से ज्यादा बसों को प्रदर्शनकारियों ने रोका

कौन हैं महादेवी वर्मा

महादेवी वर्मा का जन्म 26 मार्च, 1907 को होली के दिन फरुखाबाद उत्तर प्रदेश में हुआ। उनकी प्रारंभिक शिक्षा मिशन स्कूल, इंदौर में हुई थी। महादेवी 1929 में बौद्ध दीक्षा लेकर भिक्षुणी बनना चाहतीं थीं।

इसे भी पढ़ें- एक्शन में नजर आए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी से बाहर किए 37 नेता

फिर बापू के संपर्क में आने के बाद आप समाजसेवा में लग गईं। 1932 में इलाहाबाद विश्वविद्यालय से संस्कृत में एम.ए करने के पश्चात आपने नारी शिक्षा प्रसार के मंतव्य से प्रयाग महिला विद्यापीठ की स्थापना की व उसकी प्रधानाचार्य के रुप में कार्यरत रही। मासिक पत्रिका चांद का अवैतनिक संपादन किया। 11 सितंबर, 1987 को इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश में आपका निधन हो गया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story