Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

निर्देश: कावड़ यात्रा पर जाने से पहले रखें इन बातों का ध्यान, वरना हो सकती है जेल!

कावड़ यात्रा के दौरना यूपी के सभी जिलों में धारा-144 लागू होगी।

निर्देश: कावड़ यात्रा पर जाने से पहले रखें इन बातों का ध्यान, वरना हो सकती है जेल!
X

उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने कांवड़ यात्रा के दौरान कांवड़ियों के लिए महत्वपूर्ण निर्देश जारी किए हैं, ताकि साम्प्रदायिक सद्भावना बनी रहेरें। वहीं कावड़ यात्रा की छवि को धूमिल करने वालों पर भी सख्त कार्रवाई करने का निर्देश जारी किया है।

गृह विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि कांवड़ यात्रियों को जारी दिशानिर्देश में कहा गया है कि कांवड़ यात्रा एक धार्मिक यात्रा है इसलिए इस दौरान कोई ऐसा आचरण न करें, जिससे उनकी छवि खराब हो।

इन पर लगाई गई रोक

  • मिश्रित आबादी वाले इलाकों से गुजरते समय उत्तेजनात्मक या आपत्तिजनक नारों का प्रयोग ना करें।
  • परम्परा से हटकर कोई मार्ग या जुलूस या कार्यक्रम ना करें।
  • कांवड़ यात्रा के दौरान डी.जे. बजाने पर पूरी तरह पाबंदी होगी।
  • हालांकि आदेश प्राप्त करने के बाद नियमों के अनुसार लाउडस्पीकर बजाने की अनुमति होगी।
  • रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक लाउड स्पीकर या पब्लिक एड्रेस सिस्टम का प्रयोग नहीं किया जाएगा।
  • यूपी के सभी जिलों में धारा-144 के तहत निषेधाज्ञा लागू करते हुए डी.जे. को प्रतिबन्धित किया जाएगा।

मालूम हो कि हाल के वर्षों में कांवड़ यात्रा के दौरान कुछ संवेदनशील स्थानों पर कानून-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न होती रही है। इस लिहाज से ये दिशानिर्देश महत्वपूर्ण हैं।

इसे भी पढ़ें: कांवड़ यात्रा में पड़ने वाले अंजीर के पेड़ हैं अशुभ, छंटवाने के आदेश जारी: योगी

इन दस्तावेजों का रखें ध्यान

प्रवक्ता ने बताया कि कांवडि़यों को यात्रा के दौरान अपने ग्राम अथवा जत्थे/समूह के लोगों के साथ ही रहने, अपने साथ अपना पहचान-पत्र (परिचय पत्र-आधार, निवार्चन कार्ड आदि) अवश्य रखने, अपने साथ एक कागज पर अपना फोन नम्बर तथा अपने साथियों का फोन नम्बर अपने बैग में रखने, कांवड़ यात्री को कोई विशेष बीमारी होने पर उसकी दवा अपने साथ रखने की सलाह दी गयी है।

मुख्य बातें

  • उन्होंने बताया कि कांवड़ यात्रियों को परिचित या सुरक्षित स्थान पर रुकने,
  • कांवड़ियों के लिए निर्धारित किये गये मार्ग का ही प्रयोग करने,
  • पुलिस प्रशासन का सहयोग करने और उनका सहयोग प्राप्त करने,
  • कांवड़ यात्रा के रास्तों पर चलने वाले राहगीरों के साथ सहयोग करने
  • आकस्मिक दशा में जा रही एम्बुलेंस के लिए मार्ग छोड़ते हुए उसको सुचारू रूप से जाने देने
  • किसी व्यक्ति विशेष, धर्म विशेष की भावना को चोट पहुंचाने वाले किसी भी प्रकार का गीत ना बजाने के लिए कहा गया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story