Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सहारनपुर हिंसा का पूरा घटनाक्रम, बस एक क्लिक पर

गाजियाबाद, मेरठ, अलीगढ़, आगरा से पीएसी के 5 कमांडेंट्स भी सहारनपुर के लिए रवाना हुए हैं।

सहारनपुर हिंसा का पूरा घटनाक्रम, बस एक क्लिक पर
X

सहारनपुर में तनाव बढ़ता नजर आ रहा है। जातिय हिंसा की वारदात के बाद पुलिस और प्रशासन दोनों ही सख्त नजर आ रहे हैं। सहारनपुर में सीएम के आदेश के बाद गृह सचिव मणिप्रसाद मिश्रा, एडीजी (कानून-व्यवस्था) आदित्य मिश्रा, आईजी (एसटीएफ) अमिताभ यश, डीआईजी विजय भूषण सहित आलाधिकारी मौजूद हैं।

राज्य सरकार ने मृतकों को परिजनों को 15 लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपए देने की घोषणा की है। मंगलवार को लखनऊ से चलकर सहारनपुर पहुंचे गृह सचिव, एडीजी कानून-व्यवस्था, आईजी और डीआईजी ने एसएसपी सहित स्थानीय अफसरों के साथ पुलिस लाइन सभागार में समीक्षा बैठक की। अफसरों ने जिला अस्पताल जाकर घायलों का हाल भी जाना।
गौरतलब है कि सहारनपुर में हिंसा के बाद माहौल बहुत तनावपूर्ण है। गाजियाबाद, मेरठ, अलीगढ़, आगरा से पीएसी के 5 कमांडेंट्स भी सहारनपुर के लिए रवाना हुए हैं। एसएसपी सुभाष चंद्र दुबे के मुताबिक इस मामले में अब तक 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। करीब 10 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। एक शख्स की मौत के संबंध में तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है।
सहारनपुर हादसे में 10-12 लोग घायल हैं और सभी घायलों को अस्पतास में भर्ती कराया गया है। बीएसपी सुप्रीमों मायावती के दौरे के बाद ये हादसा हुआ।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुख जताया है और दोषियों पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। योगी ने इस मामले की जांच की जिम्मेदारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी है। मुख्यमंत्री ने लोगों को संयम बनाए रखने को कहा है। योगा ने विपक्षी दलों से भी शांति बनाए रखने की अपील की है। कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा ने इस मामले के लिए मायावति के दौरे को जिम्मेदार बताया है।
गौरतलब है कि बीएसपी मुखिया मायावति के दौरे के बाद सहारनपुर में ऐसी घटना का ये तीसरा मामला है। मायावति की रैली से लौटते वक्त लोगों पर हमला किया गया है जिसमें गोली लगने से आशीष नाम के युवक ने दम तोड़ दिया था। इस हमले के बाद करीब एक दर्जन घायल लोगों को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया।
मायावति ने कहा कि योगी सरकार के तहत दलित पीड़ितों की सुनवाई नहीं हो रही है। समाज का कमजोर तबका इससे नाराज है।

ये है पूरा मामला

सहारनपुर के शब्बीरपुर गांव में महाराणा प्रताप शोभायात्रा के दौरान हुई घटना ने आक्रमक रूप ले लिया जिसके बाद हिंसा फैल गई। हिंसा फैलने के बाद एक विशेष समुदाय दलितों पर अत्याचार करने और उनके घर जलाने का मामला सामने आया है।
इस मामले में भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर के खिलाफ केस दर्ज कर दिया गया है। भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के जंतर मंतर पहुंचकर रविवार को प्रदर्शन कर विरोध जताया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story