Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नीतीश के इस्तीफे के बाद मायावती ने कहा- खतरे में देश का लोकतंत्र

मायावती ने कहा कि देश की आम जनता को ही आगे आकर देश को बचाना होगा।

नीतीश के इस्तीफे के बाद मायावती ने कहा- खतरे में देश का लोकतंत्र
X

नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने आज कहा कि कल बिहार में और इससे पहले भी देश के जो सब राजनीतिक घटनाक्रम चल रहे हैं यह सब अपने देश के 'लोकतन्त्र' के लिए शुभ संकेत नहीं हैं।

मायावती ने आगे कहा कि इससे अपने देश का लोकतन्त्र मजबूत होने की बजाय ज्यादातर कमजोर ही होगा और अब इसे अपने देश की आम जनता को ही आगे आकर कमजोर होने से बचाना होगा।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की सत्ता की भूख और उसके लिये सत्ता व सरकारी मशीनरी का हर प्रकार से जबर्दस्त दुरूपयोग देश के लोकतन्त्र के लिए लगातार खतरा बनता जा रहा है और मणिपुर व गोवा के बाद अब बिहार का ताजा राजनीतिक घटनाक्रम इस बात का प्रमाण है कि मोदी सरकार में लोकतंत्र का भविष्य खतरे में है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा कल महागठबन्धन को तोड़कर और आज भाजपा से मिलकर नई सरकार बनाने पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मायावती ने कहा कि यह बिहार की जनता के साथ यह धोखा और विश्वासघात है।

बिहार की जनता ने मोदी लहर के विरूद्ध भाजपा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को करारी हार देते हुए यहां धर्मनिरपेक्ष पार्टियों के महागठबन्धन को प्रचण्ड बहुमत दिया था, जिसका सम्मान अगले 5 सालों तक अवश्य ही किया जाना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं किया गया जिसे सही मानना मुश्किल है।

उन्होंने कहा कि माणिपुर व गोवा में लोकतंत्र की हत्या करके वहां सरकार बनाने के बाद अब जो कुछ बिहार में हुआ है वह प्रतिपक्ष के खिलाफ सरकारी मशीनरी के जबर्दस्त दुरूपयोग का ही परिणाम कहा जाएगा।

मायावती ने आगे कहा कि क्योंकि भाजपा ने अपनी गलत नीतियों, कार्यों व भ्रष्टाचार आदि पर से लोगों का ध्यान बाटने के लिए प्रतिपक्ष के नेताओं को भ्रष्ट साबित करने का खुला अभियान चलाया हुआ है, जो अति-निन्दनीय के साथ-साथ लोकतन्त्र के लिए भी खतरा है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story