Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज हादसाः बच्चों के लिए फरिश्ता बनकर आया यह डॉक्टर

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज की घटना ने इंसानियत को झकझोर कर रख दिया।

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज हादसाः बच्चों के लिए फरिश्ता बनकर आया यह डॉक्टर
X

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज के बाल रोग व मेडिसिन के वार्डों में ऑक्सीजन की कमी से 48 बच्चों की दर्दनाक मौत ने इंसानियत को झकझोर दिया है।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में जिस वक्त ऑक्सीजन की कमी से मासूमों की मौत तड़प-तड़प हो रही थी ठीक उसी समय कॉलेज के इंसेफेलाइटिस वार्ड के प्रभारी और बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. कफील फरिश्ता बनकर सामने आए।

उन्होंने अपने पैसे से ऑक्सीजन के सिलेंडर मंगवाकर मासूमों की जान बचाने के लिए काफी जद्दोजहद किए।

आपको बता दें कि गुरुवार की रात 2 बजे उन्हें खबर मिली कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी हो गई है। यह खबर सुनते ही उन्होंने अपने गाड़ी में ऑक्सीजन के 3 सिलेंडर लेकर रात के करीब 3 बजे पहुंचे। इन 3 सिलेंडरों से बालरोग विभाग में करीब 15 मिनट तक ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा सकी।

इसे भी पढ़ें:- गोरखपुर मेडिकल कॉलेज हादसा, प्रिंसिपल राजीव मिश्रा ने दिया इस्तीफा

अस्पताल प्रबंधक रात भर किसी तरह से काम चलाया लेकिन सुबह 7 बजे ऑक्सीजन खत्म होते ही हालात फिर से बिगड़ने लग गए। इसके बाद डॉ. कफील अहमद एक बार फिर अपने डॉक्टर मित्रों के पास मदद के लिए पहुंचे और करीब एक दर्जन ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था की।

गौरतलब है कि डॉक्टर कफील अहमद के द्वारा मासूम बच्चों को बचाने का किए गए प्रयासों का सोशल मीडिया पर खूब प्रशंसा हो रही है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story