Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्वतंत्रता दिवस पर मदरसों में नहीं गाया जाएगा राष्ट्रगान: मुस्लिम धर्मगुरु

रविंद्रनाथ टैगोर ने राष्ट्रगान ब्रिटिश राजा जॉर्ज पंचम की तारीफ में लिखा था।

स्वतंत्रता दिवस पर मदरसों में नहीं गाया जाएगा राष्ट्रगान: मुस्लिम धर्मगुरु

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा स्वतंत्रता दिवस यानी कि 15 अगस्त को मदरसों में भी इसे मानाने मनाने और राष्ट्रगान गाने के निर्देश जारी किए हैं।

लेकिन इस आदेश के अगले दिन ही कई मौलवियों ने मुस्लिम समुदाय से कहा कि वो इस दिन को देश की आजादी व देश भक्ति के रूप में मनाएं। लेकिन इस अवसर पर राष्ट्रगान न गाएं और ना ही वीडिओ बनाएं क्यों कि इस्लाम में ये जायज नहीं है।

इसे भी पढ़ें: उत्तर कोरिया के बाद ट्रंप ने दी वेनेजुएला को धमकी

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ़ इंडिया को बरेली के काजी मौलाना असजद खान ने बताया कि राष्ट्रगान के रचयिता रविंद्रनाथ टैगोर ने राष्ट्रगान ब्रिटिश राजा जॉर्ज पंचम की तारीफ में लिखा था।

उन्होंने कहा कि इस्लाम के अनुसार हमारा 'अधिनायक' अल्लाह है किंग जॉर्ज नहीं। मौलाना ने कहा कि हम ऐसा राष्ट्रगान का अपमान करने के लिए नहीं कर रहे लेकिन अपनी धार्मिक भावना की वजह से इसे नहीं गा सकते।

मौलाना ने वीडियोग्राफी पर कहा कि शरिया नियमों के अनुसार फोटोग्राफ और विडियोग्रफी भी इस्लाम के खिलाफ है। सरकार हमें मदरसे में शरिया कानून का उल्लंघन करने का आदेश दे रही है।

मौलाना ने सभी मदरसों के संचालकों से कहा कि वो स्वतंत्रता दिवस परे तिरंगा ध्वज फहराएं और सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तान गाएं, मिठाइयां बांटें और स्वतंत्रता संग्राम में अपनी जान कुर्बान करने वाले सैनानियों को याद करें।

इसे भी पढ़ें: केरल सीएम की अपील, कहा- इंटरनेट से हटाया जाए 'ब्लू व्हेल' गेम

जबकि पीलीभीत के मुफ्ती मौलाना जरतब रजा खान का कहना है कि सीएम योगी आदित्यनाथ को इस मामले में दखल दे कर इस आदेश को रद्द कर देना चाहिए।

मौलाना जरतब रजा खान ने कहा कि यदि सीएम योगी ने ऐसा नहीं किया तो मुस्लिम समुदाय के पास इसकी उपेक्षा करने के अलावा और दूसरा रास्ता नहीं बचेगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top