Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्या है हिंदू युवा वाहिनी, योगी क्यों इससे जुड़े

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने हिंदू युवा वाहिनी संस्था की स्थापना साल 2002 में की थी।

क्या है हिंदू युवा वाहिनी, योगी क्यों इससे जुड़े
X

उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक के बाद एक कड़े फैसले लेते जा रहे हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इन सबके पीछे की योजना योगी ने कहा से तैयार की। इसकी शुरूआत सीएम योगी ने गोरखपुर में साल 2002 में हिंदू युवा वाहिनी संगठन की स्थापना करके शुरू की थी।

आज योगी आदित्यनाथ दिनों दिन फेमस होते जा रहे हैं। जिसके चलते योगी के संगठन हिंदू युवा वाहिनी का कार्यकर्ता बनने के लिए लोग पागल हो रहे हैं। ये ऐसा ही है जैसा कि पीएम मोदी के प्रधानमंत्री बनते ही लोग आरएसएस से जुड़ने लगी थे।

क्या है हिंदू युवा वाहिनी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने 2002 के अप्रैल में रामनवमी के दिन हिंदू युवा वाहिनी सेना का गठन किया था। इस संस्था का बाकायदा रजिस्ट्रेशन भी किया गया था। गठन के वक्त योगी ने इसे एक विशुद्ध रूप से सांस्कृतिक संगठन बताया था जिसका मकसद हिंदू विरोधी, राष्ट्र विरोधी गतिविधियों को रोकना था।

बता दें कि हिंदू युवा वाहिनी का गठन करते ही योगी की जीत का फासला बड़ा होता चला गया और 2014 का लोकसभा चुनाव योगी आदित्यनाथ ने 3 लाख से ज्यादा वोटों से जीता था। जो गोरखपुर के इतिहास में बहुत बड़ा था।

योगी ने हिंदू युवा वाहिनी को गोरखपुर के दायरे से बाहर निकालकर पूरे पूर्वांचल में इसकी मजबूत किया और यूपी में धीरे धीरे इसका प्रचार किया और कार्यकर्ता जोड़ते चले गए। हिंदू युवा वाहिनी की ताकत इतनी बढ़ गई कि इसकी बुनियाद पर योगी आदित्यनाथ बीजेपी के भीतर दबाव बनाते रहे और अपनी बातें मनवाते रहें।

और आज हिंदू युवा वाहिनी से जुड़ने की इच्छा रखने वालों की संख्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हर दिन करीब 5000 से ज्यादा लोग इसका सदस्य बनने के लिए अर्जियां दे रहे हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story