Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चित्रकूट: पहले मंदिर से चुराई बेशकीमती मूर्तियां, फिर पत्र में लिखा- हमें नींद नहीं आ रही... डरावने सपने भी हो रहे

चित्रकूट ((Chitrakoot)) जिले में सदर कोतवाली क्षेत्र के तरौंहा के बालाजी मंदिर ((Balaji temple at Taraunha)) में चोर बेशकीमती 16अष्टधातु की मूर्तियां चुरा ले गए थे लेकिन उसके बाद बड़े नाटकीय ढंग से 14 मूर्तियां चोरों द्वारा वापस लौटा दी गई।

चित्रकूट: पहले मंदिर से चुराई बेशकीमती मूर्तियां, फिर पत्र में लिखा- हमें नींद नहीं आ रही... डरावने सपने भी हो रहे
X

शायद ही कभी इस तरह की खबरें सुनने या पढ़ने को मिलती होंगी कि चोर चोरी करने के बाद सामान वापस कर देते हैं। लेकिन अगर हम कहें कि ऐसा हुआ है, ये सच है तो शायद इस पर यकीन करना मुश्किल होगा। दरअसल उत्तर प्रदेश ((Uttar Pradesh)) के चित्रकूट ((Chitrakoot)) जिले में सदर कोतवाली क्षेत्र के तरौंहा के बालाजी मंदिर ((Balaji temple at Taraunha)) में चोर बेशकीमती 16अष्टधातु की मूर्तियां चुरा ले गए थे लेकिन उसके बाद बड़े नाटकीय ढंग से 14 मूर्तियां चोरों द्वारा वापस लौटा दी गई। और महज मूर्तियां नहीं लौटाई गई बल्कि उनके साथ एक पत्र भी मिला। इस पत्र में लिखा था कि रात में सपने आते हैं इसलिए डर के कारण वो मूर्तियां लौटा रहे हैं।

हैरान करने वाली इस खबर में समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने सोमवार को कहा कि चोरों ने दावा किया कि अपराध करने के बाद उन्हें बुरे सपने आ रहे थे और इसीलिए चोरों ने मूर्तियों को वापस करने का फैसला किया।

वहीं सदर कोतवाली कर्वी के थाना प्रभारी राजीव कुमार सिंह ने बताया कि तरौन्हा के प्राचीन बालाजी मंदिर से नौ मई की रात को कई करोड़ की 16 अष्टधातु की मूर्तियां चोरी हो गई थीं। इसके बाद इस संबंध में महंत रामबालक ने अज्ञात चोरों के खिलाफ FIR दर्ज कराई थी। इस घटना के बाद से ही चोरी की 16 मूर्तियों में से 14 रविवार को महंत रामबालक के आवास के पास एक बोरे में रहस्यमय तरीके से मिलीं।

थाना प्रभारी राजीव कुमार सिंह ने आगे कहा कि वर्तमान में सभी 14 अष्टधातु मूर्तियों को कोतवाली में जमा कर दिया गया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है। बता दें कि, ये खबर पूरे इलाके के अलावा पूरे देश में फैल गई है।

और पढ़ें
Next Story