Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

वाराणसी: सीएम योगी का फैन हुआ चायवाला, दुकान का नाम बदलकर रखा 'बुलडोजर बाबा टी स्टॉल'

वाराणसी के रहने वाले और भट्टी में चाय खौलाकर बनाने वाले रामसूरत यादव और उनके बेटे चंद्रेश यादव सीएम योगी आदित्यनाथ से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने अपनी दुकान का नाम बदल कर ‘बुलडोजर बाबा टी स्टॉल’ रख दिया है।

वाराणसी: सीएम योगी का फैन हुआ चायवाला, दुकान का नाम बदलकर रखा बुलडोजर बाबा टी स्टॉल
X

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Elections 2022) में बीजेपी (BJP) की शानदार जीत के साथ बुलडोजर (Bulldozer) खासा चर्चा में रहा। सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) का बुलडोजर आए दिन सुर्खियों ही रहता है। यूपी में अपराधियों और माफियाओं की काली कमाई और संपत्तियों को जमींदोज करने का काम एक बार फिर जारी है। लेकिन अब वाराणसी (Varanasi) से बुलडोजर को लेकर कुछ अलग ही कहानी सामने आ रही है। दरअसल यहां का एक चायवाला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके बुलडोजर से इतना खुश है कि उसने अपनी दुकान का नाम ही बदल दिया। और अब ऐसा नाम दिया जो पूरे राज्य में सुर्खियों में है।

बता दें कि, वाराणसी के रहने वाले और भट्टी में चाय खौलाकर बनाने वाले रामसूरत यादव और उनके बेटे चंद्रेश यादव सीएम योगी आदित्यनाथ से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने अपनी दुकान का नाम बदल कर 'बुलडोजर बाबा टी स्टॉल' रख दिया है।

राज्य के कई माफियाओं और अपराधियों की बेनाम संपत्ति और काली कमाई को मुख्यमंत्री योगी ने बुलडोजर के माध्यम से जमींदोज करने का काम किया है। मुख्यमंत्री की कार्यशैली के रामसूरत इतने मुरीद हुए कि उन्होंने अपनी चाय की दुकान का नाम बुलडोजर बाबा टी स्टॉल रख दिया।

वहीं योगी आदित्यनाथ द्वारा बुलडोजर अपने पहले कार्यकाल में माफिया और अपराधियों की अवैध संपत्ति को ध्वस्त करने के लिए बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया गया था। राज्य में करोड़ों रुपये की अवैध संपत्ति को बुलडोजर से उजाड़ने के लिए इस्तेमाल किया गया था।

इस दुकान की चर्चा हर तरफ है, सोशल मीडिया में भी रामसूरत यादव के बुलडोजर वाली चाय की काफी वाहवाही हो रही है। राम सूरत यादव और उनके बेटे चंद्रेश यादव ने कहा कि वे आदित्यनाथ की कार्यशैली से 'काफी प्रभावित' हैं और उन्होंने अपनी दुकान का नाम मुख्यमंत्री के सम्मान में बदला है।

और पढ़ें
Next Story