Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

वकील ने शादी के कार्ड के बजाय रिश्तेदारों को भेजा नोटिस, समझाया विवाह को लेकर क्या कहता है कानून!

अक्सर लोग अपनी शादी (Wedding) को स्पेशल बनाने के लिए लिए कुछ ऐसा करते हैं ताकि वे टाइम तक उन लम्हों को याद रख सकें। शादी की ड्रेस से लेकर कार्ड (Wedding Card) तक हर चीज यूनिक होती है। वैसे तो बाजार और इंटरनेट पर शादी के कार्ड के काफी ऑप्शन मिल जाएंगे। मगर गुवाहाटी के एक कपल ने अपने शादी के कार्ड में जो क्रिएटिविटी दिखाई वो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

वकील ने शादी के कार्ड के बजाय रिश्तेदारों को भेजा नोटिस, समझाया विवाह को लेकर क्या कहता है कानून!
X

Lawyer wedding card Goes viral with Hindu Marriage act and language of constitution

अक्सर लोग अपनी शादी (Wedding) को स्पेशल बनाने के लिए लिए कुछ ऐसा करते हैं ताकि वे टाइम तक उन लम्हों को याद रख सकें। शादी की ड्रेस से लेकर कार्ड (Wedding Card) तक हर चीज यूनिक होती है। वैसे तो बाजार और इंटरनेट पर शादी के कार्ड के काफी ऑप्शन मिल जाएंगे। मगर गुवाहाटी के एक कपल ने अपने शादी के कार्ड में जो क्रिएटिविटी दिखाई वो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक कार्ड वायरल हो रहा है। यह अजय शर्मा और पूजा की शादी का कार्ड है। कार्ड के मुताबिक, अजय शर्मा पेशे से वकील हैं। इसलिए उन्होंने अपने रिश्तेदारों और दोस्तों को शादी का निमंत्रण एक नोटिस की तरह दिया गया है। उन्होंने कार्ड में बेहद मनोरंजक ढंग से हिंदू मैरिज एक्ट के बारे में बताया है।

कार्ड में लिखा- नोटिस ऑफ वेडिंग रिस्पेशन अजय शर्मा और पूजा। इसमें कानून का तराजू को भी दिखाया गया है। जिसके दोनों पलढे़ बराबर है। इसके साथ इसमें कहा गया है कि विवाह का अधिकार भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत जीवन के अधिकार का एक घटक है। मेरे यानी अजय के लिए मौलिक अधिकार का इस्तेमाल करने का दिन रविवार और तारीख 28 नवंबर 2021 है।

अंग्रेजी भाषा में छपा ये कार्ड काफी क्रिएटिव है, आपको पढ़ने में ऐसा लगेगा मानों आप कोई कोर्ट का नोटिस पढ़ रहे हैं। कार्ड के अंत में बेहद चिलचस्प बात लिखी है, जिसमें कहा गया है कि जब वकीलों की शादी होती है, तो वो 'हां' नहीं बोलते, बल्कि वो कहते हैं कि हम नियम और शर्तों को स्वीकार करते हैं।

Next Story