Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ममता बनर्जी के भतीजे को मारा सरेआम तनतनाता हुआ थप्पड़, जानिए क्या हुआ था ऐसा?

युवक ने मारा सरेआम अभिषेक को थप्पड़।

ममता बनर्जी के भतीजे को मारा सरेआम तनतनाता हुआ थप्पड़, जानिए क्या हुआ था ऐसा?
चांदीपुर. ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक को सरे आम कड़ाके दार थप्पड़ पड़ जाएंगा ऐसा उन्होंने कभी सोचा भी नहीं होगा। पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर जिले में रविवार की शाम अभिषेक एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे कि एकाएक एक युवक ने उन्हें मंच पर आ कर सरेआम झनझनाता हुआ तमाचा रश्दि कर दिया। चांदीपुर में आयोजित इस जनसभा के दौरान ममता के भतीजे मंच से लोगों को संबोधित कर रहे थे, तभी एक व्यक्ति ने उनको थप्पड़ मार दिया।

लेकिन उसके बाद उस शख्स को उसी समय पकड़ कर मंच पर ही कार्यकर्ताओं ने जमकर धुनाई की, जिसके बाद उसे अस्पताल में भी भर्ती कराना पड़ा। इस घटना के होते ही टीएमसी के समर्थक आपना आपा खो बैठें और उस युवक को तुंरत पकड़ कर धुनाई कर दी। गुस्से से आगबबूला समर्थकों ने इलाके में जमकर तोड़फोड भी की। मामला तब और भी गर्मा गया जब इन समर्थकों ने मीडिया को भी अपना निशाना बनाया, जिसके चलते एक चैनल का कैमरामैन भी गंभीर रुप से घायल हो गया। युवक ने अभिषेक को थप्पड़ एक योजना के तहत मारा था।

डाउनलोड कर पीके देखने पर यूपी गवर्नमेंट की तरफ से आई यह सफाई

युवक ने भाषण के दौरान अपने मोबाइल के कैमरे से ममता के भतीजे की फोटो ले रहा था, जब वह फोटो लेते हुए मंच के करीब पहुंच गया तो उसने मौका मिलते ही अभिषेक को थप्पड़ जड़ दिया। एक थप्पड़ मारने के बाद उसने फिर से मारने की कोशिश की लेकिन वह ऐसा करने में नाकाम रहा। इससे पहले की अभिषेक को दूसरा थप्पड़ लगता वह जल्दी से पीछे हट चुके थे। आपको बता दें कि तृणमूल के अभिषेक डायमंड हार्बर से सांसद है और वह बनर्जी टीवाईसी के अध्यक्ष भी है। उन्हें व्यापाक तौर पर ममता बनर्जी का राजनीतिक उत्तराधिकारी भी माना जाता है।

दिल्‍ली में टैंटों में गुजर कर रहे हैं J&K बाढ़ पीढ़ित, जानिए कैसे कट रहे हैं इनके दिन-रात


घटना पर टीएमसी सांसद तथा पार्टा के प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन का कहना है कि कोई व्यक्ति अभिषेक के साथ फोटो लेने के लिए मंच पर जाना चाहता था लेकिन असल में उसे इसी बात का मौका चाहिए था कि वह पास जा कर उन्हें थप्पड़ मार सकें। तो वही दूसरी ओर पार्टा के कार्यकर्ताओं का कहना है कि वह शख्स तृणमूल कांग्रेस का सदस्य नहीं है, बल्कि कोई बाहर का व्यक्ति है। पार्टी के कार्यकर्ता ने बताया कि वह अभिषेक के साथ एक फोटो खिचाना चाहता था। लेकिन हमें नहीं पता था वह ऐसा कुछ करेगा।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, पलक झपकते ही किया हमला -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Share it
Top