Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आप संकट: बागी हुए विश्वास, दिखाए तेवर

पार्टी प्रभारी बनने के बाद कुमार विश्वास को लेकर पार्टी के नेताओं में नाजरागी दिख रही है।

आप संकट: बागी हुए विश्वास, दिखाए तेवर

आम आदमी पार्टी के नेता और कवि कुमार विश्वास के तेवर बदल-बदले नजर आ रहे हैं। उन्हें साल के अंत में होने वाले राजस्थान चुनाव का प्रभारी नियुक्त किया गया है। प्रभारी बनने के बाद ही उन्होंने बगावती तेवर अपना लिए हैं।

उन्होंने ऐलान कर दिया है कि इस बार राजस्थान चुनाव अलग तरह से लड़े जाएंगे। हालांकि पार्टी में किसी भी नेता ने खुलकर इसका विरोध तो नहीं किया है, लेकिन अनकहे अंदाज में अन्य नेताओं के स्वर उठने लगे हैं। पार्टी में कोई भी विश्वास की बातों को गंभीरता से नहीं ले रहा।

भाई नहीं हुं किसी का

केजरीवाल ने साफतौर पर कहा है कि वो किसी के भाई या रिश्तेदार नहीं है। पार्टी में हर कोई एक कॉमन कॉज के लिए काम कर रहा है। गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल ने अपने और विश्वास के बीच आई गलतफैमियों और उनके पार्टी छोड़ने की अटकलों को ये कहकर विराम दिया था कि विश्वास उनके भाई हैं। अरविंद केजरीवाल ने ये बात ट्वीट करके ये जानकारी दी थी। लेकिन अब कुमार विश्वास ने केजरीवाल के भाई होने से इंकार कर दिया है।

विश्वास खो चुके हैं विश्वास

पार्टी में विशवास ने कपिल मिश्रा से किनारा कर लिया है और उन्होंने कपिल की हरकत को शर्मनाक करार दिया है। हालांकि दिल्ली के नेताओं को विश्वास की बातों पर अब विशवास नहीं रह गया है। अन्य नेताओं का कहना है कि विश्वास कई बार पार्टी और केजरीवाल के खलाफ ऐसी बातें कह चुके है, जिससे पार्टी को शर्मिदा होना पड़ा है।

Next Story
Share it
Top