logo
Breaking

डांट पड़ने पर नाबालिग बेटे ने मां को जिंदा जलाया

बेरोजगार होने की वजह से जब डांट पड़ी तो बेटे ने अपनी मां को जिंदा जला दिया

डांट पड़ने पर नाबालिग बेटे ने मां को जिंदा जलाया
चेन्नै. इस दुनिया में हर धर्म में मां को ईश्वर का रूप माना गया है। बच्चों के लिए खाना इतना जरूरी नहीं होता है जितना मां का प्यार जरूरी होता है। दुनिया भर में मां को हमेशा से बलिदान का प्रतीक माना गया है। लेकिन चेन्नै के तिरुसूलम में एक कलयुगी बेटे ने जरा सी बात पर अपनी ही मां को जिंदा जला दिया। पुलिस ने आरोपी बेटे को पकड़ लिया गया है।
मां ने डांटा तो लगा दिया मां को आग
बेरोजगार होने की वजह से जब डांट पड़ी तो उसने अपनी मां को जिंदा जला दिया। पुलिस ने बताया, '38 साल की वेलुताई चेन्नै एयरपोर्ट पर हाउसकीपर थीं। उनके तीन बच्चे हैं और आरोपी बेटा दूसरे नंबर का है। उनका बड़ा बेटा लॉरी चलाता है और छोटा बेटा सुरेश अभी दो साल का ही है। उनका पति मुरुगन दिहाड़ी मजदूर है।'
केरोसीन छिड़ककर लगा दी आग
पुलिस ने बताया कि उन्होंने अपने दूसरे नंबर के बेटे को बेरोजगार होने की वजह से ताने दिए। रविवार की रात जुवेनाइल ने अपनी मां से पैसे मांगे। उसकी मां रसोई में काम कर रहीं थीं। इस बात पर वेलुताई ने उसे डांटा। इसके बाद आरोपी ने मां पर केरोसीन छिड़क कर आग लगा दी।
बेटे को भेजा गया बाल सुधार गृह
उस समय मुरुगन और उनके बेटे घर से बाहर थे। उनकी चीख सुनकर बाहर से लोग घर के अंदर भागे। आग बुझाने के बाद वे तुरंत किलपौक मेडिकल कॉलेज ले गए जहां बुरी तरह जलने की वजह से वेलुताई की मौत हो गई। पुलिस ने जुवेनाइल को पकड़ लिया है और बाल सुधार गृह भेज दिया है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top