Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जम्मू कश्मीर में लगेगा राष्ट्रपति शासन!

हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में परस्पर हिंसा जारी है ऐसे में भाजपा खेमे के कई नेताओं मानना है कि महबूबा की सरकार हालातों को काबू करने में असफल रही है।

जम्मू कश्मीर में लगेगा राष्ट्रपति शासन!

घाटी में बढ़ती आतंकवाद और हिंसा की घटनाओं के बाद पीडीपी और भारतीय जनता पार्टी के बीच बढ़ते तनाव की भी खबरें सामने आ रही हैं। दोनों दल सुरक्षा के मुद्दे को लेकर एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि जम्मू कश्मीर में जल्द ही राष्ट्रपति शासन लागू हो सकता है।

हालांकि अभी ये स्पष्ट नहीं है कि ऐसा होगा या नहीं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे से पहले शुक्रवार को दोनों पार्टी के नेताओं ने बैठक की।
माना जा रहा है कि शाह के इस दौरे के बाद महबूबा सरकार पर कोई बड़ा फौसला सामने आ सकता है क्योंकि बीजेपी दल के कुछ लोगों का मानना है कि महबूबा घाटी में सुरक्षाव्यवस्था कायम करने में असफल रही हैं।

ग्रेटर कश्मीर वेबसाइट ने के मुताबिक भाजपा के कोर ग्रुप ने कश्मीर में “बिगड़ती” स्थिति पर चर्चा करने के लिए मुलाकात की। इस बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की। बैठक में कश्मीर की बिगड़ती स्थिति की पृष्ठभूमि, 9 अप्रैल को उप-चुनाव के दौरान बड़े पैमाने पर हिंसा और सेना द्वारा 8 नागरिकों की मौत, तथा भविष्य की कार्रवाई (जिससे घाटी की हालात को सामान्य किया जा सके) पर चर्चा की गई।
शुक्रवार को भाजपा महासचिव राम माधव ने गठबंधन सहयोगी पीडीपी के वरिष्ठ नेता हसीब द्राबू के साथ एक बैठक की। माधव ने बीजेपी के मेत्री चंद्र प्रकाश गंगा से भी मुलाकात की जिन्होंने हाल ही में ये बयान दिया था कि ‘‘गद्दारों और पत्थरबाजों का इलाज गोलियों से किया जाना चाहिए।’’हालांकि उन्होंने बाद में अपने इस बयान पर खेद भी जताया।
उल्लेखनीय है कि हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में परस्पर हिंसा जारी है ऐसे में भाजपा खेमे के कई नेताओं मानना है कि महबूबा की सरकार हालातों को काबू करने में असफल रही है।
Next Story
Top