logo

असम मौर मेघालय में बाढ़ और भूस्‍खलन से तबाही, 15 की मौत

राष्ट्रीय आपदा राहत दल और छह राज्य आपदा राहत दल की टीमें लोगों को निकाल रही है।

असम मौर मेघालय में बाढ़ और भूस्‍खलन से तबाही, 15 की मौत

गुवाहाटी. असम में पिछले तीन दिन से हो रही लगातार बारिश के कारण भारी बाढ़ और भूस्खलन के चलते आठ लोगों की मौत हो गई है। वायुसेना के हेलीकॉप्टर, सेना, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ को बचाव कार्य में लगाया गया है। जिला उपायुक्त प्रीतम सैकिया ने बताया कि गोपालपाड़ा में स्थिति सबसे अधिक खराब है जहां पर पांच लोगों की मौत हो गई है। राज्य एवं पड़ोसी मेघालय में भारी बारिश के कारण 50,000 से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं।

मंगलबार को बारिश रूकने के साथ ही बचाव एवं राहत अभियान शुरू कर दिया गया और वायुसेना के हेलीकॉप्टरों को दुधनोई, कृषनई और बोलबोला में बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए लगाया गया है। उन्होंने बताया कि सेना, एनडीआएफ और एसडीआरएफ भी बचाव काम में लगे हुए हैं। हालांकि, अधिकांश लोग खुद सुरक्षित स्थानों पर चले गए हैं। सैकिया ने बताया कि प्रभावित लोगों को आश्रय और आवश्यक राहत सामग्री मुहैया कराने के लिए जिला प्रशासन ने प्रबंध किए हैं। वहीं मेघालय के तुरा से राजधानी शिलांग को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 51 पर कई जगह भूस्खलन हुआ है। मेघालय के गारो हिल्स के पांच जिले प्रभावित हैं।

नीचे की स्लाइड्स में जानिए, बाढ़ से हालात खराब -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-

Share it
Top