Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बारिश और बाढ़ से उत्‍तर भारत के कई राज्‍य बेहाल, नेपाल से पानी छोड़ने पर यूपी के 500 गांवों में आफत

बारिश की वजह से चार धाम यात्रा के मार्ग को भारी नुकसान पहुंचा है और यात्रा फिलहाल रोक दी गई है।

बारिश और बाढ़ से उत्‍तर भारत के कई राज्‍य बेहाल, नेपाल से पानी छोड़ने पर यूपी के 500 गांवों में आफत
X
नई दिल्ली. उत्‍तर भारत के कई राज्यों में लगातार हो रही भारी बारिश और बाढ़ से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। नेपाल में भारी बारिश के कारण अलग-अलग स्थानों में हुए भूस्खलन और आई बाढ़ में 84 लोगों की मौत हो गई और 156 लोग लापता हो गए। बादल फटने और तराई वाले इलाकों में भारी बारिश होने की वजह से नदियां उफान पर हैं। इस वजह से नेपाल से कई बांधों से बड़ी मात्रा में पानी छोड़ना पड़ा है, जिससे उत्तर प्रदेश के 7 जिले बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। ब
बाढ़ और बारिश की वजह से इन जिलों के 3 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। बहराइच और लखीमपुर खीरी के प्रशासन के मुताबिक बाढ़ की वजह से अभी तक 10 लोग मारे जा चुके हैं, जबकि 300 से ज्यादा अभी भी लापता हैं। बहराइच, श्रावस्ती और लखीमपुर खीरी जिले सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं। कई नदियों का पानी खतरे के निशान से ऊपर जा चुका है, जिससे इन जिलों के करीब 500 गांवों में पानी भर गया है। बाराबंकी, सिद्धार्थ नगर और फैजाबाद पर भी खतरा मंडरा रहा है।
उत्तर प्रदेश में श्रावस्ती, बलरामपुर और लखीमपुर खीरी समेत कई इलाकों में पानी भरने से हालात खराब हैं। उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जिले में राप्ती नदी में जलस्तर बढ़ने से सैकड़ों गांवों में पानी भर गया है और तेज बहाव में सड़क भी बह गई है। नेपाल की तरफ से पानी छोड़े जाने से यूपी के बहराइच में भी सैलाब ने तबाही मचाई है। बहराइच जिले की तीन तहसीलों में भारी तबाही हुई है। बहराइच के 100 गांवों की करीब एक लाख आबादी बाढ से प्रभावित हुई है और अभी तक पांच लोगों के मारे जाने की खबर है। बहराइच में प्रशासन लोगों को सुरक्षित जगहों पर ले जाने में जुटा है। फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए हेलिकॉप्टर लगाने की तैयारी भी है।
उत्तराखंड में भी तबाही-
उत्तराखंड में हरिद्वार, देहरादून, पौड़ी गढ़वाल, कोटद्वार और पिथौरागढ़ में भारी बारिश से लोग परेशान हैं। उत्तराखंड में आसमान से आफत बरस रही है। पिछले 48 घंटों के दौरान बाढ़ और भूस्खलन की वजह से राज्य में 27 लोगों की मौत हो चुकी है। सबसे खराब स्थिति पौड़ी जिले की है, जहां 15 लोगों की मौत हो गई। देहरादून में सात, पिथौड़ागढ़ में चार और हरिद्वार में एक व्यक्ति की जान चली गई। राज्य में बारिश की वजह से कई मकानों को नुकसान पहुंचा है। बारिश की वजह से चार धाम यात्रा के मार्ग को भारी नुकसान पहुंचा है और यात्रा फिलहाल रोक दी गई है। हालांकि पिछले तीन दिनों से हो रही लगातार बारिश के बाद आज सुबह से मौसम कुछ साफ है, जिससे राहत और बचाव कार्य में तेजी आई है। बचाव कार्य में एनडीआरएफ, पुलिस और स्थानीय प्रशासन जुटा हुआ है, जबकि बीआरओ और पीडब्ल्यूडी की टीम सड़क खोलने के काम में जुटी हुई है। राज्य की इलाके के विधायक का कहना है कि पिछले साल आई इतनी बड़ी तबाही के बावजूद किसी ने इसकी सुध नहीं ली, जिसकी वजह से एक बार फिर लोगों के सामने पलायन की समस्या आ पड़ी है। वहीं गांववालों का आरोप है कि वे शिकायत लेकर तो गए, पर किसी अधिकारी ने उनकी एक नहीं सुनी।
बिहार में हाई अलर्ट-
बिहार के भी नौ जिलों में बाढ़ का अलर्ट जारी कर दिया गया है। सहरसा, मधुबनी और सुपौल में खतरे की आशंका के चलते कई घर खाली कराए गए हैं। बिहार के दरभंगा में बांध टूटने से कई गांवों में पानी भर गया है। लोगों को अपने घर खाली करने पड़े हैं। एनडीआरएफ की टीम बचाव में जुटी है। दरभंगा के घनश्यामपुर में कस्तूरबा गांधी बालिका स्कूल की लड़कियां भी बाढ़ में फंस गईं। स्कूल में 4 से 5 फीट पानी घुस गया है। बिहार के सुपौल में बाढ़ के हालात के चलते लोग घरों को छोड़कर सुरक्षित जगहों की ओर जा रहे हैं। सुपौल में लोगों ने सरकार पर लापरवाही का आरोप लगाया है। लोगों ने कहा कि बचाव का काम सरकार ठीक ढंग से नहीं कर रही है। बिहार के भी नौ जिलों में बाढ़ का अलर्ट जारी कर दिया गया है।
सहरसा, मधुबनी और सुपौल में खतरे की आशंका के चलते कई घर खाली कराए गए हैं। बिहार के दरभंगा में बांध टूटने से कई गांवों में पानी भर गया है। लोगों को अपने घर खाली करने पड़े हैं। एनडीआरएफ की टीम बचाव में जुटी है। दरभंगा के घनश्यामपुर में कस्तूरबा गांधी बालिका स्कूल की लड़कियां भी बाढ़ में फंस गईं। स्कूल में 4 से 5 फीट पानी घुस गया है। बिहार के सुपौल में बाढ़ के हालात के चलते लोग घरों को छोड़कर सुरक्षित जगहों की ओर जा रहे हैं। सुपौल में लोगों ने सरकार पर लापरवाही का आरोप लगाया है। लोगों ने कहा कि बचाव का काम सरकार ठीक ढंग से नहीं कर रही है।
नीचे की स्लाइड्स में जानिए,यूपी, हिमाचल और बंगाल का हाल -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top