Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पश्चिम बंगाल में जापानी इंसेफ्लाइटिस से 47 लोगों की हुई मौत, कई जिले हैं इससे प्रभावित

सिलीगुड़ी और इसके नजदीक के कई जिलों में जापानी इंसेफ्लाइटिस की वजह से मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है।

पश्चिम बंगाल में जापानी इंसेफ्लाइटिस से 47 लोगों की हुई मौत, कई जिले हैं इससे प्रभावित

सिलीगुड़ी. नार्थ बंगाल मेडिकल कॉलेज और अस्पताल ने एक रिपोर्ट जारी कर बताया कि पिछले 11 दिनों में जापानी इंसेफ्लाइटिस के कारण कुल 47 लोगों की मौत हुई है। प्रदेश में इस तरह के मामले में बढ़ोतरी देखी गई है। इस वजह से आए दिन अस्पताल में इस तरह के मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है और सही देखभाल न होने की वजह से उनकी मौके पर मौत हो जा रही है।

नार्थ बंगाल मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के अधीक्षक डॉ. अमरेंद्रनाथ सरकार ने बताया कि सिलीगुड़ी और इसके नजदीक के कई जिलों में जापानी इंसेफ्लाइटिस की वजह से मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। जापानी इंसेफ्लाइटिस की वजह से पिछले 11 दिनों में कुल 47 लोगों की मौत हो गई। इसकी एक प्रमुख कारण लोगों में इस बीमारी के बारे में सही जानकारी का न होना भी है। लोग काफी वक्त के बाद अस्पताल आते है जिससे काफी देर हो चुकी होती है। इस बीमारी का प्रकोप जलपाईगुड़ी क्षेत्र में भी काफी देखा गया है। हैं। सिर्फ जलपाईगुड़ी में कम-से-कम 100 लोग इस बीमारी के प्रकोप में आ चुके हैं।

वहीं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. जगन्नाथ सरकार ने बताया कि सबसे अधिक आंतरिक जिलों से इस तरह के मामले आ रहे हैं। जिसमें नागरकटा, चमुर्ची, बानरहाट, मोइनगुरी और पहाड़पुर प्रमुख हैं। इसका एक कारण बदलते मौसम का असर भी हो सकता है। यह सभी क्षेत्र जापानी इंसेफ्लाइटिस से काफी प्रभावित हैं। इस ओर सरकार के तरफ से अधिक कार्य करने की जरुरत है। इस तरफ विभाग की ओर से सरकार को एक ज्ञापन सोंपे जाने की योजना है ताकि इसपर रोक लगाई जा सके।

नीचे की स्लाइड्स में जानिए, क्या हैं जापानी इंसेफ्लाइटिस के लक्षण और क्या है इसकी स्थिति
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-


Next Story
Top