logo
Breaking

ट्विटर अकाउंट से हुआ बड़ा खुलासा, वेश्‍यावृति कराने वाले गिरोह से बचाई गई 11 लड़कियां

इनमें से तीन लड़कियां कोलकाता, तीन आंध्र प्रदेश, तीन महाराष्ट्र और दो कर्नाटक के अलग-अलग शहरों से हैं।

ट्विटर अकाउंट से हुआ बड़ा खुलासा, वेश्‍यावृति कराने वाले गिरोह से बचाई गई 11 लड़कियां
बेंगलुरु. बेंगलुरु पुलिस कमिश्नर एमएन रेड्डी के ट्विटर अकाउंट पर मंगलवार को किसी ने ऐसी जानकारी ट्वीट कर दी, जिसके बाद पुलिस को जिस्मफरोशी के धंधे में लिप्त एक गिरोह का पर्दाफाश करने में सफलता मिली। इसके अलावा नौकरी देने वाली फर्जी एजेंसियों, ड्रग्स, फर्जी ई-कॉमर्स वेब साइट्स, जुओं के अड्डे सहित ऐसे कई मामलों का पर्दाफाश ट्विटर पर आई जानकारी की वजह से हुआ है। जानकारी के मुताबिक, कमिश्नर ने ट्वीट पर मिली जानकारी डीसीपी (क्राइम) अभिषेक गोयल को दी, जिन्होंने क्राइम ब्रांच की एक टीम को ट्वीट में दिए गए पते पर रवाना कर दिया।
पुलिस को रेड के दौरान वहां 11 लड़कियां मिलीं, लेकिन गैंग का सरगना राजेश और उसके साथी भागने में कामयाब हो गया। इन लड़कियों को वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया जाता था। इनमें से तीन लड़कियां कोलकाता, तीन आंध्र प्रदेश, तीन महाराष्ट्र और दो कर्नाटक के अलग-अलग शहरों से हैं। हालांकि पुलिस को इस बात का मलाल है कि गैंग का सरगना राजेश और उसके साथी भागने में कामयाब हो गए। पुलिस ने मानव तस्करी, वेश्यावृत्ति, बंधक बनाकर रखना और शोषण से जुड़ी धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है।
नीचे की स्लाइड्स में जानिए, यौन शोषण का झूठा केस करने की धमकी देकर स्‍कूल से वसूला पैसा -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Share it
Top