logo
Breaking

पॉलिटिक्ल कॅरियर संवारने के लिए करते हैं दलित लड़की से शादी

इगलास सीट एससी उम्मीदवारों के लिए रिजर्व है

पॉलिटिक्ल कॅरियर संवारने के लिए करते हैं दलित लड़की से शादी
अलीगढ़. 2017 में कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले है। इन्हीं राज्यों में उत्तरप्रदेश शामिल है। अलीगढ़ के इगलास विधानसभा क्षेत्र के नेता दलित दुल्हन से शादी करना चाहते हैं। क्योंकि यह सीट एससी उम्मीदवारों के लिए आरक्षित है। जो चुनाव लड़ सके और उनका पॉलिटिक्ल कॅरियर संवार सकें।
टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, रविंद्र सिंह इगलास में बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहते हैं। सिंह ने कहा, 'मैं जनता की मांग पर चुनाव में खड़ा होना चाहता हूं, लेकिन इगलास सीट एससी के लिए रिजर्व है जबकि मैं ओबीसी हूं। मैं ऐसी एससी लड़की से शादी करना चाहता हूं जो पढ़ी लिखी हो। मुझे इसके लिए दहेज नहीं चाहिए।' सिंह को अब तक 10 प्रस्ताव मिले हैं।
मेघराज सिंह, बीजेपी
एनबीटी के अनुसार, तीन महीने पहले बीजेपी नेता मेघराज सिंह ने एक दलित लड़की से शादी की। उन्होंने कहा, 'मैं अपनी पत्नी के जरिए राजनीतिक सपने पूरे करना चाहता हूं।' आरएलडी नेता हरचरण सिंह चाहते हैं कि उनकी 'योग्य' पत्नी चुनाव लड़े। इगलास विधान सभा क्षेत्र 25 वर्षों के लिए रिजर्व है जिसमें से 10 साल बीत चुके हैं। पहले यह जनरल सीट हुआ करती थी।
हरचरण सिंह
आरएलडी के हरचरण सिंह की स्थिति भी बीजेपी नेता जैसी ही है। बीजेपी नेता ने अपनी बीवी को तलाक दे दिया था। तीन महीने पहले उन्होंने एक दलित लड़की, कुसुम से शादी की है। इसी तरह हरचरण सिंह ने भी 12 साल पहले सुलेखा चौधरी नाम की दलित महिला से शादी की थी। तब उनकी उम्र 38 साल थी और सुलेखा 32 साल की थीं। हरचरण ने कहा कि 2017 के चुनाव में उनकी पत्नी ही उम्मीदवार होंगी। उन्होंने कहा कि मैंने किसी राजनीतिक सोंच की वजह से दलित से शादी नहीं की थी, बल्कि यह मेरा निजी फैसला था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top