Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में स्वाइन फ्लू का कहर 25 लोगों की मौत

गर्मी में 40 डिग्री से ज्यादा के तापमान में स्वाइन फ्लू के वायरस से निपटने में सरकार नाकाम साबित हो रही है।

राजस्थान में स्वाइन फ्लू का कहर 25 लोगों की मौत
X

राजस्थान में स्वाइन फ्लू खतरनाक होता जा रहा है। इस वर्ष अब तक इससे 25 लोगों की मौत हो चुकी है। यही नहीं, इसकी चपेट में छोटे बच्चे भी आ रहे हैं। राज्य कैबिनेट की बैठक में भी स्वाइन फ्लू की भयावहता को लेकर चर्चा हुई।

बैठक के बाद संसदीय कार्यमंत्री राजेंद्र सिंह राठौड़ ने दावा किया कि इस बीमारी को लेकर सरकार सजग है और आवश्यक दवाइयां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं लेकिन हकीकत यह है कि गर्मी में 40 डिग्री से ज्यादा के तापमान में स्वाइन फ्लू के वायरस से निपटने में सरकार नाकाम साबित हो रही है।

स्वास्थ मंत्रालय ने स्वाइन फ्लू से निपटने के लिए भरपूर इंतजाम किए हैं। जरूरत सिर्फ ये है कि स्वाइन फ्लू के लक्षण दिखते ही मरीज का इलाज शुरू करवा दिया जाए।
लिहाजा आपका ये जानना जरूरी है कि स्वाइन फ्लू क्या है, और ये कैसे फैलता है। ये जानकारी तब और भी अहम हो जाती है जब सर्दी में बारिश से नमी बढ़ जाती है। दरअसल, ऐसे मौसम में ही तेजी से फैलता है स्वाइन फ्लू।
राजस्थान में इस साल स्वाइन फ्लू के लगभग 221 मामले सामने आए हैं जिसमें अब तक स्वाइन फ्लू से 25 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं सोमवार को स्वाइन फ्लू से पीडि़त एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया था।
बच्चे को जन्म देने के कुछ देर बाद उस महिला की मौत हो गई। लेकिन अब उसके बच्चे की हालत भी गंभीर बनी हुई है। स्वाइन फ्लू से पीड़ित 11 साल के मासूम बच्चे ने मंगलवार को जयपुर के जेके लॉन अस्पताल में दम तोड़ दिया।
यह बच्चा अलवर का रहने वाला था, जिसका यहां अस्पताल में उपचार चल रहा था। सरकार ने गर्मी के मौसम में स्वाइन फ्लू के वायरस के सक्रिय होने का कारण जानने के लिए नमूने वायरोलॉजी संस्थान भेजें हैं, लेकिन अभी वहां से भी रिपोर्ट नहीं आई है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story